मुंबई इडियंस (Mumbai Indians) के खिलाफ मैच में सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) की कप्तानी कर रहे मनीष पांडे (Manish Pandey) के बयान को लेकर सोशल मीडिया पर काफी बहस छिड़ गई है।

प्लेऑफ से बाहर हो चुकी हैदराबाद टीम के स्थाई कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) के चोटिल होने की वजह से पांडे मुंबई इंडियंस के बीच हो रहे इंडियन प्रीमियर लीग 2021 के 55वें मैच में सनराइजर्स की कमान संभाल रहे हैं।

गौरतलब है कि विलियमसन के साथ साथ टीम के प्रमुख तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) भी चोट की वजह से इस मुकाबले में हिस्सा नहीं ले रहे हैं।

टॉस के दौरान पांडे ने दोनों शीर्ष खिलाड़ियों की चोट की जानकारी देने के साथ मुंबई को प्लेऑफ में पहुंचने का मौका देने की बात कही, जिस पर सनराइजर्स के फैंस काफी भड़क गए।

अबु धाबी में खेले जा रहे मैच के शुरू होने से पहले पांडे ने कहा, “बतौर कप्तान ये मेरा पहला मैच है। आखिरी समय पर फैसला हुआ। केन की कोहनी में चोट है और भुवी को भी चोट है।”

मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा के टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने के फैसले पर पांडे ने कहा, “हम पहले गेंदबाजी करना चाहेंगे और मुंबई को थोड़ा मौका देना चाहेंगे। मुझे पता है कि वो पूरी ताकत के साथ खेलने वाले हैं लेकिन हम तैयार हैं।”

फैंस को पांडे का ये बयान अच्छा नहीं लगा क्योंकि सनराइजर्स के प्रशंसक चाहते हैं कि उनकी टीम आखिरी मैच में भी जीत के इरादे से खेले और एक सकारात्मक पड़ाव पर अपना टूर्नामेंट खत्म करे।