आयरलैंड और अफगानिस्तान को मिला टेस्ट खेलने का दर्जा © Getty Images
आयरलैंड और अफगानिस्तान को मिला टेस्ट खेलने का दर्जा © Getty Images

22 जून का दिन अफगानिस्तान और आयरलैंड की क्रिकेट टीम और उसके फैंस के लिए सबसे बड़े दिन में से एक है क्योंकि आईसीसी ने इन दोनों ही देशों को टेस्ट खेलने का दर्जा दे दिया है। आईसीसी ने अपनी सालाना आम बैठक में एक अहम फैसला लेते हुए अफगानिस्तान और आयरलैंड को पूर्ण सदस्य घोषित कर दिया। इस फैसले से अब ये दोनों टीमें आईसीसी की 11वीं और 12वीं पूर्ण सदस्य देश बन चुकी है और अब इन्हें टेस्ट खेलने का दर्ज़ा भी मिल गया। इससे पहले इंग्लैंड, भारत, ऑस्ट्रेलिया, वेस्टइंडीज, न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका, पाकिस्तान, श्रीलंका, बांग्लादेश और ज़िम्बाब्वे के पास आईसीसी की पूर्ण सदस्यता थी।

पिछले कुछ सालों से अफ़ग़ानिस्तान और आयरलैंड का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा था और ये दोनों ही टीमें टेस्ट खेलने की प्रबल दावेदारों में से एक थी। 2000 में बांग्लादेश को आखिरी बार आईसीसी की तरफ से टेस्ट खेलने का दर्जा हासिल हुआ था और अब उसके बाद आयरलैंड और अफगानिस्तान को अब ये बड़ा मौका मिला है।  ये भी पढ़ें:सनसनीखेज खुलासा- विराट कोहली छोड़ने वाले थे कप्तानी?

आईसीसी ने इस बात की घोषणा की और बताया कि अफ़ग़ानिस्तान और आयरलैंड को एकमत से आईसीसी की पूर्ण सदस्यता दी जाती है। इससे पहले दोनों ही टीमें एसोसिएट सदस्य थी और अब पूर्ण सदस्य बनने से उनको काफी फायदा होगा। अभी तक इन दोनों टीमों को बड़ी टीमों के खिलाफ सिर्फ आईसीसी के टूर्नामेंट में ही खेलने का मौका मिलता था, लेकिन अब टेस्ट दर्ज़ा हासिल करने के बाद दोनों ही टीमें मौके का भरपूर फायदा उठाना चाहेंगी।