© Getty Images
© Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के घरेलू क्रिकेट में एक ऐसा मैच खेला गया जिसने पूरे विश्व का ध्यान अपनी तरफ खींचा। 35 ओवर के इस मैच में छक्कों की बरसात हुई तो रनों का अंबार लगा। इसके अलावा एक खिलाड़ी ऐसा भी रहा जिसने तिहरा शतक ठोककर अपना नाम इतिहास के सुनहरे पन्नों पर दर्ज करा लिया। ये मुकाबला वेस्ट ऑगस्टा और सेंट्रल स्टर्लिंग के बीच खेला गया। इस मैच में वेस्ट ऑगस्टा के बल्लेबाज जोश डंस्टन ने धमाकेदार बल्लेबाजी की और 307* रनों की पारी खेली। पूरी टीम का स्कोर 354 रन रहा और टीम के स्कोर में इस बल्लेबाज ने अकेले 86.72 फीसदी रन बनाए। ये भी पढ़ें: सौरव गांगुली ने की अजिंक्य रहाणे की जमकर तारीफ, बताया बेहतरीन बल्लेबाज

डंस्टन ने लगाए 40 छक्के, ठोका तिहरा शतक: अपनी टीम की तरफ से तीसरे नंबर पर खेलते हुए डंस्टन ने मैदान पर आते ही तेजी से रन बनाने शुरू कर दिए। डंस्टन ने बेहद आक्रामक बल्लेबाजी करते हुए अपनी पारी में 40 गगनचुंबी छक्के जड़े। डंस्टन ने 30 ओवर की बल्लेबाजी की और अपनी पारी में उन्होंने 307* रन बनाए। डंस्टन को छोड़कर वेस्टर्न ऑगस्टा के ज्यादातर बल्लेबाज (0) पर आउट हुए या फिर दोहरे अंक को भी नहीं छू सके।

विवियन रिचर्ड्स के बड़े रिकॉर्ड को छोड़ा पीछे: इस धमाकेदार पारी के साथ ही डंस्टन ने विवियन रिचर्ड्स के रिकॉर्ड को भी पीछे छोड़ दिया। वनडे क्रिकेट में टीम की तरफ से सबसे ज्यादा रनों का योगदान देने का रिकॉर्ड रिचर्ड्स के नाम था। वेस्टइंडीज ने जब 9 विकेट पर 272 रन बनाए थे तो उस मैच में रिचर्ड्स ने अकेले 189 रनों की पारी खेली थी। वेस्टइंडीज के स्कोर में रिचर्ड्स के रनों का हिस्सा 69.48 फीसदी था लेकिन अब डंस्टन (86.72 फीसदी) ने रिचर्ड्स को पीछे छोड़ दिया।