दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्‍टेडियम में खेले गए मुकाबले में किंग्‍स इलेवन पंजाब की टीम ने दिल्‍ली कैपिटल्‍स पर पांच विकेट से जीत दर्ज की. शिखर धवन ने आज 61 गेंदों पर 106 रन की नाबाद पारी खेली लेकिन इसके बावजूद भी वो अपनी टीम की जीत सुनिश्चित नहीं कर सके. आइये हम आपको पंजाब की जीत के हीरोज के बारे में बताते हैं.

निकोलस पूरन: निकोलस पूरन ने 28 गेंदों पर 53 रन की शानदार पारी खेली. इस दौरान उनके बल्‍ले से छह चौके और तीन छक्‍के निकले. 52 रन पर दो विकेट गिरने के बाद पूरन बल्‍लेबाजी के लिए आए थे. इसके बाद जल्‍द ही मयंक अग्रवाल भी रनआउट होगए. पूरन ने एक छोर से रन बनाने की जिम्‍मेदारी निभाई. वो 13वें ओवर में पंजाब के स्‍कोर को 125 रन पर पहुंचाने के बाद कगीसो रबाडा की गेंद पर आउट हुए.

क्रिस गेल: विंडीज के दिग्‍गज बल्‍लेबाज क्रिस गेल ने आज के मैच में 13 गेंदों पर 29 रन की छोटी लेकर बेहद इंटरटेनिंग पारी खेली. उन्‍होंने तुषार देशपांडे के ओवर में 24 रन बटोरे. टीम के लिए ये रन जीत में बेहद अहम साबित हुए.

ग्‍लेन मैक्‍सवेल: अबतक टूर्नामेंट के दौरान फ्लॉप रहे ग्‍लेन मैक्‍सवेल ने आज मैच में पंजाब के लिए अहम भूमिका निभाई. मैक्‍सवेल ने 24 गेंदों पर 32 रनों का अहम योगदान दिया. मैक्‍सवेल ने निकोलस पूरन के साथ मिलकर 69 रनों की साझेदारी बनाई.

दीपक हुड्डा: दीपक हुड्डा ने 22 गेंदों पर नाबाद 15 रन की छोटी पारी खेली हो लेकिन जीत में उनका योगदान बेहद अहम है. मैक्‍सवेल के आउट होने के बाद हुड्डा ने एक छोर पर टिककर धीरे-धीरे रन बनाने की जिम्‍मेदारी उठाई.

जेम्‍स नीशम: जेम्‍स नीशम ने आखिरी ओवर में छक्‍के के साथ पंजाब की जीत पक्‍की की. उन्‍होंने आठ गेंदों पर 10 रन की नाबाद पारी खेलकर अंतिम समय में टीम की नैया को पार लगाया. अक्‍सर पंजाब की टीम आसानी से जीतने वाले मैचों में भी अंत में फंस जाती है लेकिन नीशम ने आज ऐसा होने नहीं दिया.

मोहम्‍मद शमी: शिखर धवन के शतक के बावजूद अगर दिल्‍ली की टीम नहीं जीत पाई तो उसकी एक अहम वजह मोहम्‍मद शमी भी है. धवन के अलावा कोई अन्‍य बल्‍लेबाज रन बनाने में योगदान नहीं दे सका. शमी ने मार्कस स्‍टोइनिस और शिमरोन हेटमायर को आउट कर अंतिम समय में दिल्‍ली को तेजी से रन नहीं बनाने दिया.