महेला जयवर्धने © Getty Images
महेला जयवर्धने © Getty Images

खबरों की मानें तो पू्र्व श्रीलंकाई कप्तान महेला जयवर्धने टीम इंडिया के कोच पद के लिए आवेदन दे सकते हैं। आपको बता दें कि टीम इंडिया के कोच पद के लिए आवेदन की समय सीमा बढ़ाकर 9 जुलाई कर दी गई है। इंडियन प्रीमियर लीग में मुंबई इंडियंस को सीजन 10 का खिताब जिताने के बाद जयवर्धने इंग्लैंड टीम के बैटिंग कंसल्टेंट के रूप में कार्य कर चुके हैं। इंडियन प्रीमियर लीग में बतौर कोच यह उनका पहला सीजन था।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 652 मैच खेलकर 25,957 रन बनाने वाले जयवर्धने के नाम 40 शतक और 154 अर्धशतक हैं। अंग्रेजी वेबसाइट इंडिया टुडे में छपी खबर के मुताबिक उन्होंने लंकाशायर लीग से अपना नाम वापस ले लिया है और टीम इंडिया के कोच पद के लिए तीसरे विदेशी प्रतिस्पर्धी के रूप में अपना दावा पेश कर सकते हैं। अनिल कुंबले के द्वारा इस्तीफा देने के बाद से वीरेंद्र सहवाग का दावा खासा मजबूत नजर आ रहा था लेकिन अगर जयवर्धने ने इस पद के लिए आवेदन दे दिया तो सहवाग के लिए चीजें बदल सकती हैं। खबरों के मुताबिक कुछ खिलाड़ियों ने सनराइजर्स हैदराबाद के कोच टॉम मूडी के लिए भी सिफारिश की है। मूडी के कोच रहते हुए एसआरएच ने साल 2016 में आईपीएल का खिताब जीता था।

यह माना जा रहा है कि अगर जयवर्धने इस पद के लिए आवेदन देते हैं तो कोच पद के लिए तीन लोगों जयवर्धने, सहवाग और टॉम मूडी के बीच जमकर टक्कर होगी। बीसीसीआई ने इसके पहले इस रोल के लिए मूडी, सहवाग, लालचंद राजपूत और डोडा गनेश को शॉर्टलिस्ट किया था। विराट कोहली के साथ खटपट होने के कारण अनिल कुंबले ने पिछले दिनों कोच पद से इस्तीफा दे दिया था।   [भारत बनाम वेस्टइंडीज, दूसरा वनडे, फुल स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें]

कुंबले को साल 2016 जून में सीएसी ने टीम इंडिया का कोच नियुक्त किया था। उनका टीम इंडिया के साथ अनुबंध चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के साथ खत्म हो रहा था लेकिन चैंपियंस ट्रॉफी के तुरंत बाद टीम इंडिया का वेस्टइंडीज दौरा आयोजित किया गया और इसी जल्दीबाजी में बीसीसीआई ने अनिल कुंबले का कोचिंग कार्यकाल एक दौरे के लिए बढ़ा दिया था। वैसे कुंबले ने दौरे के लिए रवाना होने से पहले ही बीसीसीआई के सीईओ को अपना इस्तीफा थमा दिया।