दक्षिण अफ्रीका की क्रिकेट टीम इस समय मुश्किल दौर से गुजर रही है. टीम के नए डायरेक्टर मार्क बाउचर हालांकि मजबूत टीम तैयार करने के प्रति आश्वस्त हैं. बाउचर की देखरेख में प्रोटियाज टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेशक टी20 सीरीज गंवाई लेकिन क्विंटन डी कॉक की नेतृत्व वाली टीम ने ऑस्ट्रेलिया को वनडे सीरीज में 3-0 से क्लीन स्वीप कर आशा की किरण जगाई.

पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज मार्क बाउचर ने इंग्लैंड दौरे से पहले दिसंबर में जिम्मेदारी संभाली थी. दक्षिण अफ्रीका ने इंग्लैंड के खिलाफ एक टेस्ट और टी20 सीरीज गंवाई जबकि बारिश से प्रभावित वनडे श्रृंखला ड्रॉ करवाई थी.

सानिया मिर्जा के बेटे इजहान ने टेनिस कोर्ट पर रखा कदम, फैंस ने FUTURE का आंद्रे अगासी बताया

दक्षिण अफ्रीकी टीम ने इसके बाद ऑस्ट्रेलिया से टी20 सीरीज भी गंवाई लेकिन क्विंटन डिकॉक की अगुवाई वाली टीम एरोन फिंच की वनडे टीम के खिलाफ 3-0 से जीत दर्ज करने में सफल रही थी.

बाउचर ने ‘क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका’ से कहा, ‘अगर में पिछले सत्र में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रदर्शन पर गौर करता हूं तो यह निराशाजनक रहा. विशेषकर इंग्लैंड के खिलाफ हम वैसा प्रदर्शन नहीं कर पाए जैसा हम चाहते थे. हमारा कोचिंग स्टाफ नया है और हमने कुछ सवाल पूछे और हमें कुछ जवाब भी मिले. इनमें से कुछ अच्छे थे और कुछ बुरे.’

क्रिकेट के दूर रहना पृथ्वी शॉ के लिए सजा जैसा; IPL को याद कर रहा है ये भारतीय बल्लेबाज

बाउचर हालांकि सीमित ओवरों के प्रारूप में टीम के प्रदर्शन से खुश है लेकिन उन्होंने कहा कि टेस्ट टीम को पुनगर्ठित करने की जरूरत है. बकौल बाउचर, ‘गर्मियों के सत्र में अच्छी बात यह रही कि हमें विशेषकर छोटे प्रारूपों में उम्मीद की किरण दिखी. मुझे लगता है कि टेस्ट क्रिकेट में अब भी हमें बहुत काम करने की जरूरत है.’

गौरतलब है कि पिछले साल वनडे विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक था.