मोहम्मद शमी © PTI
मोहम्मद शमी © PTI

भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को कोलकाता टेस्ट में 178 रनों से हराकर श्रृंखला में 2-0 से तो अजेय बढ़त बना ही ली है। साथ ही एक बार फिर से टीम इंडिया टेस्ट में नंबर 1 बन गई है। लेकिन गौर करने वाली बात है कि तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी जब इस मैच में खेल रहे थे तब उनकी बेटी बेहद बीमार थी और उसे आईसीयू में तक भर्ती करना पड़ा था। लेकिन इसकी परवाह किए बिना ही शमी ने टेस्ट मैच खेला और मैच में 6 विकेट लेते हुए टीम इंडिया को मैच के चौथे दिन ही जीत दिलवा दी। एक अंग्रेजी वेबसाइट में छपी खबर के मुताबिक न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए मैच के दौरान शमी की 14 महीने की बेटी आयरा को तेज बुखार आया था। महज आधे घंटे के भीतर बुखार इतना बढ़ गया कि उसे शहर के आईसीयू में भर्ती करना पड़ा।

उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। इस वजह से शमी मानसिक तनाव में आ गए थे लेकिन इसके बावजूद उन्होंने मैच खेला और अच्छा प्रदर्शन किया। शमी ने अपने घरेलू मैदान पर 4 टेस्ट मैच खेलते हुए अब तक कुल 18 विकेट चटकाए हैं जो ईशांत शर्मा के बाद किसी भी भारतीय गेंदबाज के द्वारा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन हैं। ईशांत ने अपने घरेलू मैदान दिल्ली में 4 टेस्ट मैदान में 21 विकेट लिए हैं। गौर करने वाली बात है कि शमी को जब अपनी बेटी की हालल का इल्म हुआ तो उन्होंने अपने किसी साथी के साथ यह बात साझा नहीं कि ताकि कोई परेशान न हो। शमी मैच के खथ्म होने के बाद अपनी बेटी की हालत देखने के लिए पहुंचते थे।

श्रृंखला में टीम इंडिया ने 2-0 से अजेय बढ़त बना ली है। टीम इंडिया ने कानपुर में खेला गया पहला टेस्ट भी 197 रनों से जीत लिया था। इस मैच की दूसरी पारी में शमी ने लगातार दो विकेट लिए थे और न्यूजीलैंड की टीम को पिछले कदमों पर पिछेड़ दिया था।