खराब फॉर्म की वजह से भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) से दरकिनार किए गए अनुभवी ओपनर मुरली विजय (Murali Vijay) टखने में चोट के कारण 21 नवंबर से सूरत में होने वाले सैयद मुश्ताक अली T20 टूर्नामेंट (Syed Mushtaq Ali T20 Tournament) के सुपर लीग (Super League) और नॉकआउट मैचों से बाहर हो गए हैं.

Pink Ball Test: कोलकाता टेस्‍ट से पहले अश्विन अपनी गेंदबाजी में लाए एक नया वैरिएशन

विजय ने हाल में विजय हजारे ट्रॉफी (आठ मैचों में एक शतक से 284 रन) और मौजूदा मुश्ताक अली ट्रॉफी (छह मैचों में 127 रन) बेहतरीन प्रदर्शन किया था.

तमिलनाडु क्रिकेट संघ (TNCA) की विज्ञप्ति के अनुसार टीम में उनकी जगह बाएं हाथ के स्पिनर एम सिद्धार्थ (M Sidharth) लेंगे. सैयद मुश्ताक अली T20 टूर्नामेंट के सुपर लीग और नॉकआउट मैच 21 नवंबर से एक दिसंबर तक खेले जाएंगे.

इससे पहले स्पिनर एम सिद्धार्थ विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) में टीम का हिस्सा थे. टीएनसीए ने कहा कि टखने में चोट की वजह से विजय नॉकआउट मैचों से बाहर हो गए हैं.

61 टेस्ट मैचों में 12 शतक जड़ चुके हैं मुरली विजय

35 साल के मुरली विजय ने टीम इंडिया की ओर से 61 टेस्ट मैचों में 12 शतक और 15 अर्धशतक के साथ 3,982 रन बना चुके हैं. इस दौरान उनकी बल्लेबाजी औसत 38.28 की रही है. खराब फॉर्म की वजह से मुरली विजय इस समय टीम से बाहर चल रहे हैं. उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 14 दिसंबर 2018 को पर्थ में खेला था.

IND U-19 vs AFG U-19: वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान, प्रियम गर्ग करेंगे कप्‍तानी

लिमिटेड ओवर्स में मुरली विजय ने 17 वनडे इंटरनेशनल मैचों में एक अर्धशतक के साथ कुल 339 रन बनाए हैं. इस दौरान उनकी औसत 21.18 रही है. 9 टी-20 इंटरनेशनल मैचों में मुरली विजय ने 169 रन बनाए हैं जिसमें 48 रन उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर है.