ऑकलैंड टी20 (Auckland T20I) मुकाबले को भले ही भारत छह विकेट से जीतने में कामयाब रहा हाे, लेकिन न्‍यूजीलैंड के खिलाफ (India vs New Zealand) मैच के दौरान एक ऐसा वाक्‍या भी हुआ जो भारत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है. ऑन फील्‍ड अंपायर मनीष पांडे की गलती पर ध्‍यान नहीं दे पाए. अन्‍यथा भारत पर पांच रनों की पेनल्‍टी भी लगाई जा सकती थी.

पढ़ें:- ऑकलैंड में बना इतिहास, पहली बार 5 बल्‍लेबाजों ने एक टी20 मैच में जड़े अर्धशतक

मैच में भारत की फिल्डिंग के दौरान मनीष पांडे मिडविकेट की दिशा में खड़े थे. मनीष पांडे गेंद को पकड़पाने से चूक गए और गेंद पीछे चली गई. मनीष पांडे में बल्‍लेबाजों को यह दर्शाया कि गेंद उन्‍होंने पकड़ ली है. उन्‍होंने गेंद को गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की तरफ फेंकने का इशारा किया. जबकि गेंद पीछे जा रही थी.

रवींद्र जड़ेजा ने इसके बाद भागते हुए आए और गेंद को पकड़कर बुमराह के छोर पर फेंका. बुमराह गेंद को पकड़ पाने से चूक गए. जिसके कारण न्‍यूजीलैंड को दो अतिरिक्‍त रन भी मिल गई.

क्‍या कहता है नियम ?

आईसीसी के नियम के मुताबिक फिल्‍डर अगर गेंद को पकड़ पाने से चूक जाता है तो वो उसे फेंकने का नाटक कर रन भाग रहे बल्‍लेबाजों को भ्रमित नहीं कर सकता है. अगर वो ऐसा करता है तो अंपायर बल्‍लेबाजी करने वाली टीम को पांच अतिरिक्‍त रन दे सकता है.

पढ़ें:- रोहित शर्मा के हैरतअंगेज कैच को देख उड़े फैंस के होश

ऑकलैंड टी20 में दोनों ऑनफील्‍ड अंपायर्स मनीष पांडे की इस हरकत को देखने से चूक गए, जिसका फायदा भारतीय टीम को मिला. इस हाई स्‍कोरिंग मैच में अगर न्‍यूजीलैंड को इस तरह से पांच रन मिल जाते तो यह भारत के लिए घातक भी साबित हो सकता था.