आज 7 जनवरी है. यह वो तारीख है जिसे भारतीय क्रिकेट टीम और भारतीय क्रिकेट को पसंद करने वाला कोई भी फैन कभी नहीं भूलना चाहेगा. जी हां, एक साल पहले आज ही के दिन टीम इंडिया ने ऑस्‍ट्रेलिया को उन्‍हीं की धरती पर पहली बार टेस्‍ट क्रिकेट में मात दी थी. विराट एंड कंपनी ने चार मैचों की टेस्‍ट सीरीज पर 2-1 से कब्‍ला किया था.

भारत ने ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर बॉक्सिंग डे टेस्‍ट जीतने के साथ ही 2-1 से बढ़त बना ली थी, लेकिन सीरीज में एक मैच होना अभी भी बाकी था. ऐसे में टिम पेन की कप्‍तानी वाली कंगारू टीम के पास सीरीज 2-2 से बराबरी पर खत्‍म करने का अच्‍छा मौका था.

ऑस्‍ट्रेलियाई टीम पर सिडनी में हुए चौथे टेस्‍ट मैच में भी हार का खतर मंडरा रहा था, लेकिन मैच के पांचवें दिन बारिश के चलते एक भी गेंद फेंकी नहीं जा सके और भारत को 2-1 से सीरीज जीत के साथ ही संतोष करना पड़ा.

भारत-ऑस्‍ट्रेलिया के बीच 74 साल के टेस्‍ट क्रिकेट के इतिहास में यह पहली बार हुआ जब टीम इंडिया कंगारुओं को उन्‍हीं के घर पर हरा पाने में कामयाब हुए. ऑस्‍ट्रेलिया और ऑस्‍ट्रेलिया में हराने वाला भारत पहली एशियाई टीम बनी.

भारत की तरफ से सीरीज जीत के हीरो चेतेश्‍वर पुजारा रहे जिन्‍होंने चार मैचों की सात पारियों में 74.43 की शानदार औसत से सर्वाधिक 521 रन बनाए थे. ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर तीन शतक भी लगाए.

गेंदबाजी की बात की जाए तो भारतीय तेज बैट्री जसप्रीत बुमराह, मोहम्‍मद शमी और इशांत शर्मा ने भी सधी हुई गेंदबाजी करके खूब प्रशंसा बटोरी. बुमराह ने सर्वाधिक 21 विकेट अपने नाम किए थे.