कराची टेस्ट के तीसरे दिन साउथ अफ्रीका ने पाकिस्तान की पहली पारी को 378 रन पर समेटने के बाद अपनी दूसरी पारी में उम्दा शुरुआत की थी. एक वक्त पर सिर्फ 1 ही विकेट खोकर 175 रन जोड़ लिए थे. यहां दिन का खेल खत्म होने में करीब आधे घंटे का ही खेल बाकी था. लेकिन उसने यहां अपने धड़ाधड़ 3 विकेट गंवा दिए. यासिर शाह ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक 3 विकेट अपने नाम कर पाकिस्तान की एक बार फिर मैच में वापसी करा दी है.

एक वक्त एडिल मार्करम (74) और रासी वैन डेर ड्यूसन (64) की जोड़ी ने दूसरे विकेट के लिए 127 रन जोड़ लिए थे. इन दोनों बल्लेबाजों के आगे पाकिस्तानी गेंदबाज बिल्कुल बेअसर दिख रहे थे. इससे पहले अफ्रीकी टीम को पहला झटका डीन एल्गर (29) के रूप में लगा था. तब अफ्रीका का कुल स्कोर 48 रन ही था. यहां से ड्यूसन और मार्करम की जोड़ी बखूबी अपनी टीम की पारी को संभाल लिया था.

लेकिन यासिर शाह ने पहले सेट हो चुके ड्यूसन और फिर चलता किया और फिर अनुभवी बल्लेबाज फाफ डुप्लेसिस (10) को भी क्रीज पर टिकने नहीं दिया. ड्यूप्लेसिस एलबीडब्ल्यू आउट कर पवेलियन लौटे. दिन का आखिरी झटका नुमान अली ने एडिन मार्करम के रूप में देकर अफ्रीका को बड़ा झटका दिया. स्टंप के समय साउथ अफ्रीकी टीम 29 रन की बढ़त हासिल कर चुकी थी, जबकि 4 बल्लेबाज आउट हो गए हैं.

इससे पहले मेजबान पाकिस्तान ने अपने निचले क्रम के बल्लेबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत अफ्रीकी टीम पर पहली पारी के आधार पर 158 रनों की बढ़त हासिल की थी. 11वें नंबर के बल्लेबाज यासिर शाह ने 38 रन बनाए और नौमान अली (24) के साथ आखिरी विकेट के लिए 55 रन जोड़े. उसकी यह पारी 378 के स्कोर पर सिमटी.

मैच के तीसरे दिन उसने 8 विकेट पर 308 रने आगे खेलना शुरू किया था. इस बीच कगिसो रबाडा ने पहले ही ओवर में हसन अली (21) को आउट कर अपने 200 टेस्ट विकेट पूरे किए. रबाडा 200 टेस्ट विकेट तक पहुंचने वाले साउथ अफ्रीका के सबसे युवा गेंदबाज हैं. 25 वर्ष के रबाडा ने 44 टेस्ट में यह आंकड़ा छुआ.