टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिए रिकॉर्ड शतक जड़ने के बाद राष्ट्रीय टीम से बाहर हुए शीर्ष क्रम बल्लेबाज करुण नायर (Karun Nair) ने माना कि उनके करियर पर दिग्गज खिलाड़ी राहुल द्रविड़ (Rahul Darvid) का गहरा असर रहा है। भारत के पूर्व कप्तान द्रविड़ और नायर दोनों ही कर्नाटक राज्य से हैं।

नायर ने एक इंटरव्यू में कहा, “मुझे लगता है कि मैं आज जैसा क्रिकेटर हूं इसमें राहुल द्रविड़ का मेरे करियर पर बड़ा असर रहा है क्योंकि वो ऐसे शख्स थे जिन्होंने मुझे राजस्थान के लिए आईपीएल में मौका दिया। उनके जैसे दिग्गज का मेरे जैसे घरेलू क्रिकेटर में भरोसा दिखाना, मेरे लिए काफी संतोषजनक था। ये मेरे लिए आंख खोलने वाली बात थी कि मैं आईपीएल खेल सकता हूं। ये मेरे लिए प्रेरित करने और आत्मविश्वास बढ़ाने वाली बात थी।”

केएल राहुल के साथ बल्लेबाजी के दौरान अपना सर्वश्रेष्ठ दे पाते हैं नायर

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में नायर पहले राजस्थान रॉयल्स और फिर दिल्ली डेयरडेविल्स में द्रविड़ के मार्गदर्शन में खेले हैं। द्रविड़ के अलावा टीम इंडिया के मौजूदा शीर्ष क्रम बल्लेबाज केएल राहुल (KL Rahul) के साथ भी नायर की अच्छी जमती है। ये दोनों खिलाड़ी भी कर्नाटक के लिए खेलते हैं।

इस जोड़ी के बारे में नायर ने कहा, “मैंने और राहुल ने अंडर-13 से एक साथ क्रिकेट की शुरुआत की थी। हम दोनों एक दूसरे को काफी लंबे समय से जानते हैं। तकरीबव 20 साल से। हम ज्यादा बात नहीं करते, लेकिन एक दूसरे के खेल को समझते हैं।”

गौरतलब है कि नायर ने इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई के खिलाफ जिस टेस्ट मैच में 303 रनों की पारी खेली थी, उसी मैच में राहुल ने 199 रन बनाए थे और दोनों बल्लेबाजों के बीच 161 रनों की मैचविनिंग साझेदारी बनी थी। इससे पहले चेन्नई टेस्ट से पहले 2015 में तमिलनाडु के खिलाफ रणजी ट्रॉफी फाइनल मैच कर्नाटक के लिए खेलते हुए नायर ने 328 रन बनाए थे, जबकि राहुल ने 188 रनों की पारी खेली थी। इन दोनों बल्लेबाजों की बीच शानदार तालमेल है।