Rajneesh Gurbani: Forget that I have a chance of hat-trick
रजनीश गुरबानी © IANS

रणजी ट्रॉफी फाइनल मैच में हैट्रिक लेने वाले दूसरे गेंदबाद बने विदर्भ के रजनीश गुरबानी का कहना है उन्हें याद ही नहीं था कि उनके पास हैट्रिक का मौका है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं भूल गया था कि मेरे पास हैट्रिक का मौका है। पारी के 101वें ओवर की पांचवीं और छठीं गेंद पर पहले दो विकेट लेने के बाद, जब अगला ओवर शुरू करने वाला था तो दर्शक में से किसी ने मुझे याद दिलाया कि मेरे पास हैट्रिक का मौका है। तब मुझे इसका एहसास हुआ।’’

रजनीश इस तमिलनाडु के बी कल्याणसुंदरम के बाद रणजी ट्रॉफी फाइनल में हैट्रिक लेने वाले दूसरे गेंदबाज हैं। उनका कहना है कि वह अपनी गति बढ़ाने पर काम कर रहे हैं। रजनीश ने दिल्ली के खिलाफ फाइनल मैच के दूसरे दिन शानदार हैट्रिक लेकर विपक्षी टीम की पहली पारी को 295 रन पर समेट दिया। कर्नाटक के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में गुरबानी ने सात विकेट हॉल लेकर विदर्भ को फाइनल में पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी।

अभ्यास मैच की पिच पहले टेस्ट की विकेट के 15 प्रतिशत करीब की भी नहीं होती: विराट कोहली
अभ्यास मैच की पिच पहले टेस्ट की विकेट के 15 प्रतिशत करीब की भी नहीं होती: विराट कोहली

दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद उन्होंने कहा, ‘‘मैं अपनी गति बढ़ाना चाहूंगा और ट्रेनर के साथ मिलकर इस पर काम कर रहा हूं। आमतौर पर हम सेशन शुरू होने से तीन महीने पहले ट्रेनिंग शुरू करते है लेकिन इस बार हमने ये काम एक महीने पहले शुरू किया था। मेरे शेड्यूल में एक दिन जिम और एक दिन गेंदबाजी पर काम होता था। मुझे पता है कि मुझे फिटनेस के मामले में भी काफी सुधार करना है।’’