गौतम गंभीर (Courtesy: Getty Images)
गौतम गंभीर (Courtesy: Getty Images)

रणजी ट्रॉफी में दिल्ली और मध्य प्रदेश के बीच खेले गए क्वॉर्टरफाइनल मुकाबले में गौतम गंभीर की आतिशी बल्लेबाजी की बदौलत दिल्ली ने 7 विकेट से जीत हासिल की। इस जीत के साथ ही दिल्ली अब सेमीफाइनल में पहुंच गई है। दिल्ली की जीत में सबसे अहम योगदान रहा गौतम गंभीर का। गंभीर ने दूसरी पारी में 129 गेंदों में 95 रनों की पारी खेली। अपनी पारी में गंभीर ने 9 चौके और 1 छक्का लगाया। हालांकि गंभीर जब अपने शतक से सिर्फ 5 रन दूर थे तभी वो रन आउट होकर पवेलियन लौट गए। गंभीर ने आउट होने से पहली ही दिल्ली की जीत तय कर दी थी।

क्वॉर्टरफाइनल मुकाबले में मध्य प्रदेश की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 338 रन बनाए थे। जिसके जवाब में दिल्ली ने पहली पारी में 405 रन बनाकर पहली पारी के आधार पर 67 रनों की बढ़त हासिल कर ली थी। पहली पारी में दिल्ली की तरफ से कुणाल चंदेला ने सबसे ज्यादा (81), ध्रुव शोरे ने (78), हिम्मत सिंह ने (71), ऋषभ पंत ने (49), नीतीश राणा ने (43) रनों की पारी खेली थी। पहली पारी में गंभीर का बल्ला खामोश रहा था और वो सिर्फ 3 गेंदों में 6 रन ही बना सके थे।

धर्मशाला में कड़कड़ाती ठंड से बचने के लिए भारतीय टीम ने लिया आग का सहारा
धर्मशाला में कड़कड़ाती ठंड से बचने के लिए भारतीय टीम ने लिया आग का सहारा

इसके बाद दिल्ली ने दूसरी पारी में मध्य प्रदेश को 283 रनों पर समेट दिया। दूसरी पारी में मध्य प्रदेश की तरफ से पुनीत दाते ने (60) रनों की पारी खेली। दिल्ली की तरफ से विकास मिश्रा ने (4), विकास तोकस ने (3), मनन शर्मा और नवदीप सैनी ने 1-1 विकेट लिया। दूसरी पारी में दिल्ली को जीतने के लिए 217 रनों की जरूरत थी। पहला विकेट जल्दी गिर जाने के बाद तीसरे नंबर पर खेलने आए गंभीर ने कुणाल चंदेला के साथ मिलकर दिल्ली की जीत तय कर दी। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 98 रनों की साझेदारी की। इसके बाद गंभीर ने तीसरे विकेट के लिए शोरे (46*) के साथ मिलकर 95 रन जोड़े और दिल्ली को जीत दिला दी।