Ranji Trophy 2018-19, Elite C & Plate, Round 5, Day 2
Parvez Rasool @PTI (file image)

उत्तर प्रदेश की टीम पहली पारी में 102 रन से पिछड़ गई लेकिन बाएं हाथ के स्पिनर सौरभ कुमार (21/5) की घातक गेंदबाजी से उसने जम्मू एंड कश्मीर को दूसरी पारी में करारे झटके देकर रणजी ट्रॉफी  एलीट ग्रुप सी मैच में अपनी उम्मीदें जीवंत बनाए रखी।

जम्मू कश्मीर के 290 रन के जवाब में उत्तर प्रदेश की टीम दूसरे दिन केवल 188 रन पर आउट हो गई। उत्तर प्रदेश की तरफ से केवल रिंकू सिंह (66) और कप्तान अक्षदीप नाथ (43) ही कुछ योगदान दे पाए। जम्मू कश्मीर के लिए परवेज रसूल ने चार और एम मुदासिर ने तीन विकेट लिए।

जम्मू कश्मीर के पास अपनी स्थिति मजबूत करने का अच्छा मौका था लेकिन उसने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक अपने दूसरी पारी में 98 रन पर सात विकेट गंवा दिए। इस तरह से उसकी कुल बढ़त 200 रन हो गई है।

स्‍टंप के समय आकाश चौधरी 14 और वसीम राजा दस रन पर खेल रहे थे।

प्रत्यूष सिंह का अर्धशतक, त्रिपुरा के 7 विकेट पर 235 रन

प्रत्यूष सिंह (76 रन) के अर्धशतक से त्रिपुरा ने ग्रुप सी मैच के दूसरे दिन हरियाणा के खिलाफ स्टंप तक 7 विकेट पर 235 रन बना लिए लेकिन टीम अब भी पहली पारी के आधार पर 57 रन से पिछड़ रही है।

स्टंप तक मनीशंकर मुरासिंह 71 गेंद में पांच चौके और एक छक्के से 43 रन बनाकर क्रीज पर डटे हैं जबकि हरमीत सिंह दो रन बनाकर दूसरे छोर पर डटे हैं।

हरियाणा के लिए पूनिश मेहता, कप्तान हर्षल पटेल और टीनू कुंडू ने दो दो विकेट अपने नाम किए। हरियाणा ने सुबह 7 विकेट पर 258 रन से आगे खेलते हुए पहली पारी 292 रन पर समाप्त की।

हर्षल पटेल ने 11 रन की पारी को 34 रन में बदला, पर टीम 300 रन का स्कोर पार नहीं कर सकी। मुरासिंह ने 74 रन देकर चार विकेट हासिल किए जबकि अजय सरकार ने 57 रन देकर पांच खिलाड़ियों को पवेलियन भेजा।

गोवा को पहली पारी की बढ़त

गोवा ने दर्शन मिसाई के नाबाद शतक और लक्ष्य गर्ग के अर्धशतक के बूते एलीट ग्रुप सी के दूसरे दिन स्टंप तक नौ विकेट पर 259 रन बनाकर पहली पारी के आधार पर 75 रन की बढ़त बना ली।

गोवा ने पहले दिन सेना को पहली पारी में 184 रन पर समेट दिया था। स्टंप तक मिसाई 101 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद थे जबकि विजेश प्रभुदेसाई ने अभी खाता नहीं खोला है।

मिसाई ने अपनी पारी में 194 गेंद का सामना किया जिसमें आठ चौके और दो छक्के जड़े थे। वहीं लक्ष्य पूरे पचास रन बनाने के बाद आउट हो गए। उन्होंने 158 गेंद की अपनी पारी में छह चौकों की मदद से 50 रन बनाए।

सुबह टीम एक विकेट पर 27 रन से आगे खेलने उतरी। पर उसने लगातार अंतराल पर विकेट गंवा दिए। उसके छह खिलाड़ी 53 रन तक पवेलियन लौट चुके थे पर मिसाई और लक्ष्य ने टीम को संभालने में अहम भूमिका अदा की।

सेना के लिए दिवेश पठानिया और सच्चिदानंद पांडे ने अच्छी गेंदबाजी करते हुए चार चार विकेट अपनी झोली में डाले।

ओडिशा ने झारखंड पर पहली पारी में ली बढ़त

सलामी बल्लेबाज अनुराग सारंगी और सूर्यकांत प्रधान के अर्धशतकों की मदद ने ओडिशा ने रणजी ट्राफी एलीट ग्रुप सी के मैच में झारखंड के खिलाफ शुक्रवार को यहां दूसरे दिन पहली पारी में 29 रन अहम बढ़त हासिल की।

झारखंड ने पहली पारी में पिछड़ने के बाद दूसरी पारी में तीन विकेट पर 107 रन बनाकर 78 रन की बढ़त कायम कर ली।

ओडिशा ने दिन की शुरुआत 27 पर तीन विकेट से की और पहली पारी में उस पर पिछड़ने का खतरा मंडरा रहा था। सलामी बल्लेबाज सारंगी की 58 रन की पारी के बाद आठवें नंबर पर बल्लेबाजी करने आए प्रधान की 41 गेंद में ताबड़तोड़ 54 रन की पारी से टीम से 200 का आंकड़ा पार किया। प्रधान की यह 34वें प्रथम श्रेणी मैच में पहली अर्धशतकीय पारी है।

ओडिशा की पहली पारी 201 रन पर सिमटी। झारखंड के लिए राहुल शुक्ला, वरूण आरोन, राहुल प्रसाद और अनुकूल रॉय ने दो-दो विकेट लिए जबकि आशीष कुमार ने एक विकेट लिया।

झारखंड की टीम ने दूसरी पारी में 58 रन तीसरा विकेट खो दिया लेकिन इसके बाद अनुभवी सौरव तिवारी(नाबाद 22) और इशांक जग्गी (नाबाद 29) ने टीम को कोई और क्षति नहीं होने दी। दिन का खेल खत्म होने तक टीम ने तीन विकेट पर 107 रन बना लिए थे।

असम पर पारी से हार का खतरा

कप्तान महिपाल लोमरोर (133) की शतकीय पारी से राजस्थान ने असम के खिलाफ एलीट ग्रुप सी के मैच में असम के खिलाफ पहली पारी में 217 रन की बड़ी बढ़त हासिल की।

लोमरोर के 133 के अलावा सलमान खान ने भी 71 रन की पारी खेली जिससे राजस्थान ने असम के पहली पारी में 108 रन के जवाब में 325 रन बनाए।

पहली पारी में बड़े अंतर से पिछड़ने के बाद असम की दूसरी पारी में शुरूआत खराब रही। तनवीर उल हक (28 रन पर दो विकेट) ने स्कोर बोर्ड के चालू होने से पहले ही पारी के दूसरे ओवर की लगातार दो गेंदों पर दो विकेट झटक लिए।

इसके बाद सलामी बल्लेबाज आरके दास (10) और गोकुल शर्मा (नाबाद 64) की 45 रन की साझेदारी को अनिकेत चौधरी (25 रन पर एक विकेट) ने तोड़ा। इसके बाद गोकुल का साथ देने पहुंचे कुणाल सैकिया (नाबाद 21) ने टीम को कोई और क्षति नहीं होने दी। दोनों के बीच 64 रन की साझेदारी हो गई है।

असम को पारी की हार से बचने के लिए अब भी 108 से ज्यादा रन बनाने होंगे और उसके सात विकेट शेष है।

धोपोला की हैट्रिक, उत्तराखंड की शानदार वापसी

तेज गेंदबाज दीपक धोपोला की हैट्रिक सहित छह विकेट तथा विनीत सक्सेना (नाबाद 62) और कप्तान रजत भाटिया (नाबाद 54) की अर्धशतकीय पारियों की मदद से उत्तराखंड ने मेघालय के खिलाफ प्लेट ग्रुप मैच में अच्छी वापसी की।

धोपोला ने 52 रन देकर छह विकेट लिए और मेघालय को 311 रन पर आउट करने में अहम भूमिका निभाई। मेघालय ने अपनी आखिरी पांच विकेट 15 रन के अंदर गंवाये। इस बीच धोपोला ने दो ओवरों में अपनी हैट्रिक भी पूरी की।

उत्तराखंड ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक चार विकेट पर 175 रन बनाए हैं और वह मेघालय से 136 रन पीछे है।

उत्तराखंड की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसके चार विकेट 92 रन पर निकल गए थे। इसके बाद सक्सेना और भाटिया ने अच्छी तरह से जिम्मेदारी संभाली। ये दोनों अब तक पांचवें विकेट के लिये 83 रन जोड़ चुके हैं।

इंद्रजीत का दोहरा शतक, बिहार ने कसा शिकंजा

सलामी बल्लेबाज इंद्रजीत कुमार के 222 रन की मदद से बिहार ने अरुणाचल प्रदेश के खिलाफ अपनी पहली पारी पांच विकेट पर 536 रन पर समाप्त घोषित करके प्लेट ग्रुप मैच पर शिकंजा कस दिया।

पहली पारी में केवल 84 रन बनाने वाले अरुणाचल ने हालांकि दूसरी पारी में अच्छी शुरुआत की तथा दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक उसने एक विकेट पर 98 रन बनाये हैं। हालांकि बिहार अब भी उससे 354 रन आगे है। स्टंप के समय समर्थ सेठ 52 और अखिलेश साहनी 25 रन पर खेल रहे थे।

इससे पहले बिहार ने सुबह अपनी पहली पारी एक विकेट पर 250 रन से आगे बढ़ायी। अपना तीसरा मैच खेल रहे इंद्रजीत ने दोहरा शतक पूरा किया और मेनडुंग सिंगपो की गेंद पर एलबीडब्‍ल्‍यू आउट होने से पहले 266 गेंदों का सामना करके 30 चौके और तीन छक्के लगाए। कप्तान बाबुल कुमार (98) दो रन से शतक से चूक गए जबकि उत्कर्ष भास्कर 57 रन बनाकर नाबाद रहे।