भारतीय क्रिकेट टीम की नई ‘दीवार’ चेतेश्वर पुजारा ने साल 2020 की शुरुआत में ही दोहरा शतक ठोक अपनी तैयारी का नमूना पेश कर दिया है. पुजारा ने रणजी ट्रॉफी 2019-20 ग्रुप बी मैच के दूसरे दिन रविवार को कर्नाटक के खिलाफ 248 रन की पारी खेली जिससे उनकी टीम ने अपनी पहली पारी 7 विकेट पर 581 रन बनाकर घोषित की.

विराट कोहली ने साथी खिलाड़ी इशांत शर्मा को किया ट्रोल, मिला ये जवाब

पुजारा और शेल्डन जैक्सन (161) ने तीसरे विकेट के लिए 294 रन की साझेदारी की. छठे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे प्रेरक मांकड़ (नाबाद 86) ने भी शतक जड़ा. पुजारा आज 162 जबकि जैकसन 99 रन से आगे खेलने उतरे.

पुजारा ने 390 गेंद का सामना करते हुए 24 चौके और एक छक्का लगाया जबकि जैक्सन ने 299 गेंद की पारी में सात चौके और छह छक्के जड़े. कर्नाटक की ओर से जगदीश सुचित, पवन देशपांडे और प्रवीण दुबे ने दो-दो विकेट चटकाए.

कर्नाटक की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसने दिन का खेल खत्म होने तक सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल (00) का विकेट गंवाकर एक विकेट पर 13 रन बनाए. कर्नाटक की टीम अब भी सौराष्ट्र से 568 रन से पीछे है.

IPL से पहले इस ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने BBL इतिहास की खेली सबसे बड़ी पारी, बना डाले कई रिकॉर्ड

पुजारा के फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर  का ये 13वां दोहरा शतक है. भारत के लिए सबसे अधिक दोहरा शतक जड़ने के मामले में पुजारा टॉप पर हैं. उनके बाद दिग्गज विजय मर्चेंट का नंबर आता है जिनके नाम 11 दोहरे शतक हैं.