Rishabh Pant says India A tour to England helped him prepare for test debut
Rishabh pant © Getty Images

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत का कहना है कि इंडिया ए टीम के साथ इंग्लैंड दौरे से उन्हें टेस्ट क्रिकेट में डेब्‍यू के साथ तेज और उछालभरी गेंदबाजी का सामना करके अच्छे प्रदर्शन में मदद मिली।

20 साल के पंत ने नॉटिंघम के ट्रेंट ब्रिज मैदान पर अपने पहले टेस्‍ट की पहली पारी में 24 रन बनाए और 7 कैच भी लपके।

उन्होंने कहा , ‘ इंग्लैंड में विकेटकीपिंग हमेशा कठिन होती है क्योंकि गेंद विकेट के पीछे लड़खड़ाते हुए आती है। मैं पिछले ढाई महीने से इंग्लैंड में भारत ए के लिए खेल रहा हूं जिससे काफी फायदा मिला है।’

उन्होंने कहा, ‘ मैं नेट पर अभ्यास कर रहा हूं कि तेज गेंदों से कैसे निपटना है और इसका फायदा मिल रहा है।’

‘टेस्‍ट क्रिकेट खेलना मेरा सपना था’

टेस्ट क्रिकेट में डेब्‍यू पर रिषभ पंत ने कहा, ‘यह बेहतरीन मौका है। मैं आईपीएल और घरेलू क्रिकेट में इन सभी के साथ खेल चुका हूं लेकिन देश के लिए खेलने का अहसास ही अलग है। टेस्ट क्रिकेट खेलना मेरा सपना था।’

कामयाबी का श्रेय राहुल द्रविड़ और कोच तारक सिन्‍हा को दिया

रूड़की से आकर दिल्ली में क्रिकेट खेलने वाले पंत ने अपनी कामयाबी का श्रेय इंडिया ए के कोच राहुल द्रविड़ और अपने बचपन के कोच तारक सिन्हा को दिया।

उन्होंने कहा, ‘ मैंने शून्य से शुरूआत की थी लेकिन जब आप कड़ी मेहनत के साथ अपने लक्ष्य की ओर बढते हैं तो उसे हासिल कर लेते हैं। मैं राहुल द्रविड़ सर का शुक्रगुजार हूं और अपने बचपन के कोच राहुल सिन्हा का भी। उन्होंने मेरी जीवन में हर कदम पर मदद की है।’