मैं 21 लोगों के खिलाफ खेल रहा था – 11 विरोधी टीम के और दस हमारे। यह कहना है पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का जिन्होंने पाकिस्तान के अपने पूर्व साथियों के खिलाफ फिर से मैच फिक्सिंग के आरोप लगाये हैं।

पढ़ें:- INDw vs WIw: मजबूत शुरुआत के बावजूद भारतीय टीम को झेलनी पड़ी शिकस्‍त

पाकिस्तान क्रिकेट हाल में कई विवादों से गुजरा जिनमें तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर और मोहम्मद आसिफ तथा बल्लेबाज सलमान बट पर 2011 में स्पॉट फिक्सिंग के लिये प्रतिबंध लगना भी शामिल है।

अख्तर ने ‘रिवाइंड विद समीना पीरजादा’ नामक कार्यक्रम में कहा, ‘‘मेरा हमेशा से यह विश्वास था कि मैं पाकिस्तान को धोखा नहीं दे सकता, मैं मैच फिक्सिंग नहीं कर सकता लेकिन मैं मैच फिक्सरों से घिरा हुआ था। मैं 21 खिलाड़ियों के खिलाफ खेल रहा था – 11 विरोधी टीम के और दस हमारे। कौन जानता है कि कौन मैच फिक्सर था।’’

पढ़ें:- AUS vs SL: डेविड वार्नर के अर्धशतक से जीते कंगारू, 3-0 से नाम की सीरीज

‘‘बहुत अधिक मैच फिक्सिंग होती थी। आसिफ ने मुझे बताया था कि उन्होंने किन मैचों को फिक्स किया था और यह कैसे होता है।’’

अख्तर ने कहा कि जब उन्हें पता चला कि आमिर और आसिफ इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में भ्रष्ट गतिविधियों में संलिप्त थे तो वह बहुत निराश हुए।

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने आमिर और आसिफ को समझाने की कोशिश की। प्रतिभा का कैसा दुरुपयोग था। जब मुझे इस बारे में पता चला तो मैं इतना निराश हुआ कि मैंने दीवार पर जोर से मुक्का मारा था।’’

अख्तर ने कहा, ‘‘पाकिस्तान के दो चोटी के गेंदबाज और बेहतरीन तेज गेंदबाज बर्बाद हो गये थे। उन्होंने कुछ पैसों के लिये खुद को बेच दिया था।’’