श्रीलंका के खिलाफ शुक्रवार को खेले जा रहे तीसरे वनडे मैच में भारतीय क्रिकेट के इतिहास में एक नया रिकॉर्ड बना, जब टीम इंडिया के लिए एक या दो नहीं, बल्कि पांच युवा खिलाड़ियों ने एक साथ वनडे डेब्यू कैप पहनी।

कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम में खेले जा मैच के दौरान 40 साल में ऐसा पहली बार हुआ जब भारतीय टीम ने एक ही मैच में 5 वनडे खिलाड़ियों को डेब्यू का मौका दिया हो। डेब्यू करने वाले ये खिलाड़ी हैं- संजू सैमसन (Sanju Samson), नीतीश राणा (Nitish Rana), चेतन सकारिया (Chetan Sakariya), कृष्णप्पा गौतम (Krishnappa Gowtham) और राहुल चाहर (Rahul Chahar)।

इससे पहले दिसंबर 1980 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत के पांच खिलाड़ियों ने डेब्यू किया था।जिनमें दिलीप जोशी, कीर्ति आजाद, रोजर बिनी, संदीप पाटिल और तिरुमलाई श्रीनिवासन ने डेब्यू किया था।

भारत के कप्तान शिखर धवन ने आखिरी वनडे मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। भारत ने इस मुकाबले के लिए छह बदलाव किए हैं। डेब्यू कर रहे पांच खिलाड़ियों के साथ नवदीप सैनी को भी प्लेइंग इलेवन में जगह दी गई है। दूसरी ओर श्रीलंका ने भी तीन बदलाव किए हैं।

भारतीय प्लेइंग इलेवन: पृथ्वी शॉ, शिखर धवन (कप्तान), संजू सैमसन (विकेटकीपर), मनीष पांडे, सूर्यकुमार यादव, नीतीश राणा, हार्दिक पांड्या, कृष्णप्पा गौतम, राहुल चाहर, नवदीप सैनी और चेतन सकारिया

श्रीलंकाई प्लेइंग इलेवन : अविष्का फर्नाडो, मिनोद भानुका (विकेटकीपर), भानुका राजपक्षा, धनंजय डी सिल्वा, चरीथ असालंका, दासुन शनाका (कप्तान), रमेश मेंडिस, चमीका करूणारत्ने, अकीला धनंजय, दुशमंथा चमीरा और प्रवीण जयाविक्रमा।