ऑस्ट्रेलिया टीम © Getty Images
ऑस्ट्रेलिया टीम © Getty Images

एशेज सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच तब विवादों में आ गया जब पर्थ टेस्ट मैच में फिक्सिंग का साया मंडराने लगा। ‘द सन’ ने दावा किया है कि स्पॉट फिक्सरों ने पर्थ टेस्ट से जुड़ी जानकारी जानकारी देने की बात की। ‘द सन’ ने ये भी कहा है कि ये फिक्सर भारत के हैं और इन्होंने हर ओवर की सही जानकारी देने के लिए 140,000 ग्रेट ब्रिटेन पाउंड की मांग की। फिक्सरों के नाम सॉबर्स जॉबन और प्रियांक सक्सेना बताए जा रहा हैं। कीमत मिलने पर फिक्सरों ने हर ओवर में बनने वाले रनों की सही जानकारी देने की बात की। हैरानी की बात ये है कि दावा किया जा रहा है कि इन दो भारतीय फिक्सरों में से एक जॉबन भारतीय कप्तान विराट कोहली के साथ भी क्रिकेट खेल चुका है।

‘द सन’ के मुताबिक भारतीय फिक्सर ने कहा, ‘मैच से पहले मैं आपको बताऊंगा कि किस ओवर में कितने रन बनेंगे और पिर आप उस ओवर में पैसे लगा देना।’ उन्होंने आगे कहा, ‘जो फिक्सिंग में शामिल खिलाड़ी ओवर फिक्स करने के बाद इशारा करेगा, जैसे कि वो अपना ग्लव्स बदलेगा, या उतारेगा और इससे हम समझ जाएंगे कि वो उस ओवर को फिक्स करने वाला है। इस दौरान फिक्सर्स का एक साथी जो कि स्टेडियम में ही मौजूद होगा वो अपने साथियों को इस बात की जानकारी देगा और इसके बाद फिक्सिंग शुरू हो जाएगी।’

रणजी ट्रॉफी 2017: सेमीफाइनल में दिल्ली पर मंडराया हार का खतरा, बंगाल की टीम में दो दिग्गजों की एंट्री
रणजी ट्रॉफी 2017: सेमीफाइनल में दिल्ली पर मंडराया हार का खतरा, बंगाल की टीम में दो दिग्गजों की एंट्री

फिक्सर्स ने इस बात का भी दावा किया है कि उनके साथ कई पूर्व और मौजूदा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर हैं जिसमें से एक ऑलराउंडर खिलाड़ी वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम का हिस्सा भी रहा है। जॉबन ने दावा किया है कि वो पिछले 10 साल से प्रियांक के साथ मिलकर फिक्सिंग कर रहा है। साथ ही जॉबन ने ये भी कहा है कि वो एक बार कोहली के साथ भी मैच खेल चुका है। हालांकि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अध्यक्ष जेम्स सदरलैंड ने इस खबरों का खंडन किया है।