vijay hazare Trophy 2021 2nd semi final karnataka vs mumbai match preview
पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडीक्कल @Twitter

देश का घरेलू वनडे टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy 2021) अपने तीसरे चरण में पहुंच चुका है. गुरुवार को दूसरे सेमीफाइनल मैच में घरेलू क्रिकेट की दो दिग्गज टीमें मुंबई और कर्नाटक (MUM vs KAR) आमने-सामने होंगी. जब दोनों टीमें इस मुकाबले के लिए मैदान पर उतरेंगी तो सभी की नजर दोनों ही टीमों के ओपनिंग बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) और देवदत्त पडीक्कल (Devdutt Padikkal) के व्यक्तिगत प्रदर्शन पर भी टिकी होंगी.

लिस्ट A क्रिकेट में लगातार 4 शतक जड़ने वाले पहले भारतीय बने पडीक्कल 673 रन के साथ टूर्नामेंट के शीर्ष स्कोरर हैं. लेकिन मुंबई के पृथ्वी शॉ भी 589 रन बनाकर उनसे अधिक पीछे नहीं हैं. मुंबई की अगुआई कर रहे पृथ्वी ने पुडुचेरी के खिलाफ ग्रुप चरण के मैच में नाबाद 227 रन की पारी खेली थी, जो टूर्नामेंट के इतिहास का सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत स्कोर है.

मंगलवार को पृथ्वी ने लक्ष्य का पीछा करते हुए (Highest Individual Score during Run Chase) किसी भारतीय द्वारा लिस्ट A मैच में सर्वोच्च स्कोर का रिकॉर्ड बनाया, जब उन्होंने सौराष्ट्र के खिलाफ क्वॉर्टर फाइनल में नाबाद 185 रन की पारी खेली. पृथ्वी ने इस दौरान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) और विराट कोहली (Virat Kohli) जैसे दिग्गजों को पीछे छोड़ा. गुरुवार को पृथ्वी और पडीक्कल दोनों ही युवा खिलाड़ी एक बार फिर बड़ी पारी खेलकर अपनी-अपनी टीम को फाइनल में पहुंचाने की कोशिश करेंगे.

पालम के एयरफोर्स मैदान पर पड्डीकल एक बार फिर चयनकर्ताओं को प्रभावित करने की कोशिश करेंगे, जिससे कि इंग्लैंड के खिलाफ 3 मैचों की सीरीज के लिए भारत की वनडे टीम में जगह बनाने का उनका दावा मजबूत हो सके.

कर्नाटक के पास मनीष पांडे, तेज गेंदबाज रोनित मोरे, एम प्रसिद्ध कृष्णा, ऑलराउंडर श्रेयस गोपाल और स्पिनर कृष्णप्पा गौतम जैसे अनुभवी खिलाड़ी हैं और इस मामले में उसका मुंबई पर पलड़ा कुछ भारी है, जिसके पास कुछ युवा खिलाड़ी हैं और टीम नियमित कप्तान श्रेयस अय्यर, सूर्यकुमार यादव और तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर के बिना खेलने उतरेगी.

कर्नाटक के कप्तान रविकुमार समर्थ भी शानदार फॉर्म में हैं और 605 रन के साथ इस साल सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में दूसरे स्थान पर हैं. उन्होंने केरल के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में 192 रन की पारी खेली.

वर्ष 2018-19 में खिताब जीतने वाली मुंबई को अपने गेंदबाजों से काफी उम्मीदें होंगी, जिनकी अगुआई तेज गेंदबाज धवल कुलकर्णी (13 विकेट) करेंगे. स्पिनरों शम्स मुलानी, प्रशांत सोलंकी और तनुष कोटियान के अलावा आलराउंडर शिवम दुबे का प्रदर्शन भी टीम के लिए अहम होगा.

इनपुट : भाषा