विराट कोहली अपने बल्ले पर MRF का स्टिकर लगाने के एवज में 8 करोड़ की रकम लेते हैं © AFP
विराट कोहली अपने बल्ले पर MRF का स्टिकर लगाने के एवज में 8 करोड़ की रकम लेते हैं © AFP

विराट कोहली ने ऑनफील्ड एंडोर्समेंट के मामले में महेन्द्र सिंह धोनी को भी पीछे छोड़ दिया है। क्रिकेट जगत का सबसे पसंदीदा चेहरा बन चुके विराट कोहली के साथ ज्यादार एड एजेंसी अपना नाम जोड़ना चाहती हैं क्योंकि विराट उनके लिए फायदे का सौदा हैं। नवभारत टाइम्स वेबसाइट के अनुसार विराट अपने बैट पर स्टिकर लगाने के एवज में एमआरएफ से 8 करोड़ की मोटी रकम वसूलते है। जबकि धोनी के बैट पर स्पार्टन का स्टिकर है जिसके एवज में उन्हे 6 करोड़ रूपये मिलते हैं। विराट को टीशर्ट और शूज के एंडोर्समेंट के लिए 2 करोड़ रूपये अलग से मिलते हैं। ALSO READ: भारत की पाकिस्तान की जीत के बाद धोनी ने बांधे विराट के प्रशंसा के पुल

हालांकि ऑफफील्ड एंडोर्समेंट के मामले में धोनी अभी भी विराट से आगे हैं। ऑफफील्ड एंडोर्समेंट के लिए धोनी 8 करोड़ रूपये लेते है जबकि विराट को 5 करोड़ रूपये मिलते हैं। अन्य भारतीय खिलाड़ियों की बात करें तो सुरेश रैना और रोहित शर्मा को सिएट बल्ले पर स्टिकर लगाने के एवज में क्रमशः 2.5 करोड़ और 3 करोड़ रूपये देती है। शिखर धवन भी विराट कोहली की तरह एमआरएफ के बल्ले से खेलते हैं इसके लिए एमआरएफ 3 करोड़ रूपये देती है। अंजिक्य रहाणे को बैट, शूज और टीशर्ट के एंडोर्समेंट के लिए 1.5 करोड़ की रकम मिलती है। ALSO READ: वीडियो: छोटे धवन ने पापा शिखर धवन के लिए गाया ‘जॉनी जॉनी यस पापा’

भारतीय खिलाड़ियों की तुलना में विदेशी खिलाड़ियों को ऑनफील्ड एंडोर्समेंट में कम पैसा दिया जाता है। लेकिन एबी डीविलियर्स और क्रिस गेल जैसे खिलाड़ी अच्छी खासी रकम लेते हैं। डीविलियर्स अपने बल्ले पर स्टिकर लगाने के 3.5 करोड़ लेते हैं जबकि क्रिस गेल को स्पार्टन बल्ले पर स्टिकर लगाने के एवज में 3 करोड़ रूपये देती है।