श्रीलंका के खिलाफ मोहाली टेस्ट मैच में भारतीय टीम के पूर्व कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) अपने टेस्ट करियर का 100वां मैच खेलेंगे। कोहली भारत के लिए ये उपलब्धि हासिल करने वाले 11वें खिलाड़ी होंगे। ऐसे में जाहिर है कि फैंस अपने पसंदीदा खिलाड़ी को ये कीर्तिमान हासिल करते देखना चाहते हैं लेकिन बीसीसीआई (BCCI) के मोहाली टेस्ट बिना दर्शकों के आयोजित करने के फैसले से उन्हें झटका लगा है।

पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) भी इस बात से बेहद निराश हैं कि कोहली अपना 100वां टेस्ट फैंस के बिना खेलेंगे। कोहली के 100वें टेस्ट पर इंडिया टुडे से बात करते हुए गावस्कर ने बीसीसीआई के बिना दर्शकों के मोहाली टेस्ट आयोजित करने के फैसले पर निराशा व्यक्त की।

उन्होंने कहा, “कोई भी खेल जो आप खेलते हैं, आप चाहते हैं कि वहां दर्शक हों। भारत हाल के दिनों में बिना दर्शकों के खेला है। कोई भी कलाकार, चाहे वो अभिनेता हो, क्रिकेटर हो, भीड़ के सामने खेलना चाहता है। 100वां टेस्ट बहुत खास है। निराश है कि दर्शक नहीं होंगे, लेकिन मुझे लगता है कि फैसला सभी के हित में लिया गया है। मोहाली और उसके आसपास के मामले बढ़ गए हैं, जहां मैच खेला जाने वाला है।”

पीसीए कोषाध्यक्ष आरपी सिंगला ने शनिवार को पुष्टि की थी कि मोहाली टेस्ट बीसीसीआई के निर्देश के अनुसार बंद दरवाजों के पीछे खेला जाएगा। हालांकि ये भी बताया गया है कि दूसरा टेस्ट, जो बेंगलुरु में खेला जाएगा, वो एक डे-नाइट टेस्ट होगा, जिसमें 50 प्रतिशत दर्शकों को स्टेडियम में आने की अनुमति होगी।

सिंगला ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, “हां, टेस्ट मैच के लिए ड्यूटी पर मौजूद लोगों के अलावा, हम बीसीसीआई के निर्देश के अनुसार किसी भी सामान्य दर्शक को अनुमति नहीं दे रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “अभी भी मोहाली और उसके आसपास नए COVID मामले सामने आ रहे हैं, इसलिए बेहतर है कि हम सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल लें। जाहिर है, प्रशंसकों के ये निराशाजनक है क्योंकि मोहाली में एक अंतरराष्ट्रीय मैच लगभग तीन साल बाद हो रहा है।”