टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship) के फाइनल मैच की दूसरी पारी में सस्ते में आउट हो गए हैं. पहली पारी में 44 रन बनाने वाले विराट इस बार मात्र 13 रन बनाकर आउट हो गए. इस मैच में दोनों ही बार उन्हें ऊंचे लंबे कद के युवा गेंदबाज काइल जैमीसन (Kyle Jamieson) ने अपना शिकार बनाया. विराट जैमीसन के सामने कुछ ज्यादा ही असहज दिख रहे हैं. मशहूर क्रिकेट कॉमेंटेटर हर्षा भोगले ने कहा कि विराट जैमीसन के खिलाफ थोड़े असहज और अनिश्चित नजर आए हैं.

अपने करियर का सिर्फ 8वां ही टेस्ट खेल रहे जैमीसन ने दुनिया के महान बल्लेबाजों में शुमार विराट कोहली को इस फॉर्मेट में अभी तक कुल 3 बार अपना शिकार बना लिया है. हर्षा भोगले ने कहा कि इसका साफ मतलब है कि विराट को उनके खिलाफ परेशानी हो रही है और उन्हें जल्दी ही इस गेंदबाज के खिलाफ कुछ करना होगा.

59 वर्षीय हर्षा भोगले ने यह बात बात मैच के छठे दिन लंच सेशन के दौरान क्रिकेट वेबसाइट क्रिक बज के शो क्रिकबज चैटर पर कही. उन्होंने कहा, ‘वैसे भी ऊंचे लंबे कद के किसी भी गेंदबाज के खिलाफ दुनिया का कोई भी बल्लेबाज मुश्किल में ही दिखाई देगा. जैमीसन 6 फीट 6 इंच लंबे हैं और वह करीब सवा 8 फीट की ऊंचाई से गेंद फेंक रहे हैं, जिसे भांपने में मुश्किल होती है.’

उन्होंने कहा, ‘भारत के पास आज मैच बनाने का अच्छा चांस था लेकिन विराट कोहली का दिन की शुरुआत में जल्दी आउट हो जाना झटका था. क्योंकि वह अगर क्रीज पर होते तो भारतीय टीम थोड़ा और तेजी से रन जुटा सकती थी.’

भोगले ने कहा, ‘मुझे ऐसा महसूस हुआ कि विराट इस गेंदबाज के खिलाफ वह खेलते हुए ‘अनिश्चित’ लग रहे थे, जबकि विराट कोहली जो शॉट खेलते हैं वह उनमें पूरे विश्वास के साथ शॉट खेलते हुए निश्चित नजर आते हैं.’

हर्षा ने यह भी कहा, ‘जैमीसन के पास गति ज्यादा नहीं है वह 130 और 132 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से ही गेंद फेंकते हैं. लेकिन उनके पास सबसे बड़ी ताकत उनकी स्विंग है वह गेंद को दोनों ओर स्विंग कराने में माहिर हैं और उन्होंने विराट के खिलाफ इसी को अपना हथियार बनाकर उन्हें फंसाया. वह लगातार अंदर-अंदर गेंद लाते रहे और फिर बाहर एक गेंद फेंककर उन्हें अपने जाल में फंसा लिया.’

हालांकि उन्होंने कहा, ‘हम टीवी पर देख रहे है. मैदान और पिच पर हकीकत कुछ और भी हो सकती है. लेकिन विराट को इसकी काट ढूंढनी होगी क्योंकि इंग्लैंड भी अब ऐसे ही लंबे कद के गेंदबाजों को कोहली के खिलाफ इस्तेमाल करने की सोच रहा होगा.’