दिल्ली कैपिटल्स फिरोजशाह कोटला मैदान पर लगातार हार के बाद किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ शनिवार को होने वाले आईपीएल मैच में जीत की राह पर लौटने की कोशिश करेगी।

मुंबई इंडियंस के खिलाफ दिल्ली की गुरुवार को लगातार तीन मैचों में जीत के साथ उतरी थी और इस मैच में भी उसने अच्छी शुरुआत की थी।

मुंबई की पारी के आखिर ओवरों में हालांकि दिल्ली की टीम एक बार फिर राह से भटक गई। इसका अहम कारण ये है कि दिल्ली कैपिटल्स की टीम अब तक अपने घरेलू मैदान से सामंजस्य नहीं बैठा पाई है। दर्शकों के समर्थन और हौसला अफजाई का भी कोच रिकी पोंटिंग और मेंटर सौरव गांगुली की टीम को फायदा नहीं मिल पा रहा है।

दिल्ली को अगर प्लेऑफ में जगह बनाने की उम्मीदों को इजाफा करना है तो घरेलू मैदान पर बाकी बचे तीन मैचों में बेहतर प्रदर्शन करना होगा। दिल्ली की टीम नौ मैचों में 10 अंक के साथ तीसरे स्थान पर है जबकि पंजाब की टीम के भी इतने ही मैचों में इतने ही अंक हैं लेकिन खराब नेट रन रेट के कारण टीम चौथे स्थान पर है। दोनों ही टीमें अब तक आईपीएल खिताब जीतने में नाकाम रही हैं और इस बार खिताब के सूखे को खत्म करना चाहेंगी।