4 reasons why Parthiv Patel has been called up for India’s tour of South Africa
पार्थिव पटेल © AFP

छोटा पैकेट बड़ा धमाका नाम से मशहूर भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल को लगभग एक साल बाद फिर से टीम इंडिया के लिए खेलने का मौका मिला है। इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई टेस्ट में आखिरी बार नजर आए पार्थिव को दक्षिण अफ्रीका जाने वाली भारतीय टीम में जगह दी गई है। पटेल 5 जनवरी से शुरू होने वाली तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय स्क्वाड में शामिल रहेंगे। वैसे टीम इंडिया के पास प्रमुख विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा हैं लेकिन पार्थिव को बतौर विकल्प टीम में रखा गया है।

1. घरेलू टूर्नामेंट में प्रदर्शन का इनाम मिला

एक साल से टीम इंडिया से बाहर चल रहे पार्थिव रणजी और दिलीप ट्रॉफी जैसे घरेलू टूर्नामेंट में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। रणजी ट्रॉफी 2017-18 सीजन में पार्थिव की कप्तानी में गुजरात टीम क्वार्टरफाइनल तक पहुंच गई है। 7 दिसंबर को गुजरात बंगाल के खिलाफ पहला रणजी क्वार्टरफाइनल मैच खेलेगी। पार्थिव ने इस रणजी सीजन में खेले 6 मैचों में कुल 313 रन बनाए हैं, जिसमें राजस्थान के खिलाफ खेली 173 रनों की धमाकेदार पारी शामिल है। पिछले रणजी सीजन में पार्थिव ने 8 मैचों में कुल 763 रन जड़े थे, जिसमें 2 शतक और 5 अर्धशतक शामिल हैं।

2. सफल आईपीएल सीजन

पार्थिव ने मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हुए आईपीएल 10 में भी अच्छा प्रदर्शन किया। पार्थिव ने 16 मैचों में 134.81 की स्ट्राइक रेट से 395 रन बनाए हैं। मुंबई इंडियंस ने इसी सीजन में तीसरी बार आईपीएल खिताब भी जीता था।

3. लंबे विदेशी दौरे पर बेहतरीन विकल्प

भारत 5 जनवरी से 28 जनवरी तक दक्षिण अफ्रीका में तीन मैचों की टेस्ट सीरीज खेलेगा। ऐसे में मुख्य विकेटकीपर साहा के चोटिल होने की स्थिति में पार्थिव बढ़िया विकल्प साबित हो सकते हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान चयनकर्ता एसएसके प्रसाद ने खुद कहा था कि पार्थिव साहा के बाद भारत के दूसरे सबसे बेहतरीन टेस्ट विकेटकीपर हैं।

4. कट, पुल शॉट लगाने में माहिर

14 साल के अपने करियर में पार्थिव ने विदेशी जमीन पर केवल 12 मैच खेले हैं, जिसमें उनके नाम 357 रन हैं। विदेशों में उनका बल्लेबाजी औसत भी केवल 25.50 का है लेकिन उनके शॉट चयन की तकनीक उन्हें दक्षिण अफ्रीका में एक बेहतर बल्लेबाजी विकल्प बनाती है। छोटे कद के पार्थिव उछाल भरी पिचों पर (जैसी पिचें विदेशों में अक्सर होती हैं) कट और पुल शॉट लगाने में माहिर हैं। मुंबई इंडियंस के अपने कप्तान रोहित शर्मा की तरह वह भी ज्यादातर रन पुल शॉट से ही बनाते हैं। ऐसे में वह दक्षिण अफ्रीकी जमीन पर अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों के लिए भारतीय टीम:

विराट कोहली (कप्तान), मुरली विजय, केएल राहुल, शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उप कप्तान), रोहित शर्मा, ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, पार्थिव पटेल, हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, उमेश यादव, जसप्रीत बुमराह।