इस बार इंडियन प्रीमियर लीग में दिल्ली की टीम नए नाम और नए चेहरों के साथ मैदान पर उतरने वाली है। घरेलू क्रिकेट में धमाल मचाने के बाद भारत की तरफ से टेस्ट डेब्यू करने वाले हनुमा विहारी भी दिल्ली कैपिटल्स में कुछ नया करने को बेताब हैं।

इंडियन प्रीमियर लीग के आगाज से पहले क्रिकेट कंट्री से हनुमा विहारी ने खास बात करते हुए बताया कैसी होगी टूर्नामेंट में उनकी तैयारी।

और भी बेखौफ हो गए हैं

इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू करने के बाद बल्लेबाजी में आए बदालव पर हनुमा का कहना था ”दुनिया के बेस्ट गेंदबाजों का सामना कर वो और भी बेखौफ हो गए हैं। मैं पॉसिटिव सोचता हूं, इंटरनेशनल क्रिकेट में खेलने से मुझे काफी आत्मविश्वास मिला है। दुनिया के बेहतरीन गेंदबाजों का सामना करने के बाद अब मुझे लगता है मैं किसी भी गेंदबाज का सामना कर सकता हूं। मैं अब बेखौफ होकर बल्लेबाजी कर सकता हूं।”

गेंदबाजों से एक कदम आगे रहने की जरूरत

टी20 का खेल वनडे और टेस्ट क्रिकेट से बिल्कुल अलग होता है। हनुमा ने बताया कि वह अब इसके मुताबिक बिल्कुल ढल चुके हैं। ”मेरे राय से टी20 में जो चेंज होता है वह बहुत ही ज्यादा टैक्टिकल रहता है। आपको हमेशा ही गेंदबाजों से एक कदम आगे रहने की जरूरत होती है। आपके अंदर का कौशल जो है वो इन बदलाव करने में मदद करता है। मुझे लगता है अब मैं पहले से ज्यादा बेहतर इस आईपीएल के खेल को पढ़ता हूं। अब मैं अलग अलग फॉर्मेट की जरूरत के मुताबिक ढल पाता हूं।”

आईपीएल एक बहुत बड़ा स्टेज

दनादन छक्कों की भरमार वाले इंडियन प्रीमियर लीग में लंबे शॉट्स लगाने पर उनका कहना था, ”मेरे इरादा बस दिल्ली और आईपीएल के खेल प्रेमियों का मनोरंजन करना है। मैंने घरेलू क्रिकेट में छक्के लगाए हैं लेकिन आईपीएल एक बड़ा स्टेज है मुझे बल्लेबाजी करते हुए यहां बहुत सारे लेग देख सकते हैं।”