टेस्ट क्रिकेट में सभी देशों के खिलाफ शतक जमाने वाले बल्लेबाज
फोटो साभार: hdwallpaperbackgrounds.net

जिंबाब्वे के खिलाफ 113 रनों की पारी खेलने के साथ ही केन विलियमसन टेस्ट क्रिकेट में सभी देशों के खिलाफ शतक बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। टेस्ट खेलने वाले सभी देशों के खिलाफ शतक जमाने का कारनामा सबसे पहले साउथ अफ्रीकी सलामी बल्लेबाज और भारत के कोच रह चुके गैरी कर्स्टन ने अंजाम दिया था। उनके बाद से 12 और बल्लेबाजों ने सभी 9 देशों के खिलाफ शतक बनाने का कारनामा अंजाम दिया। तो आइए जानते हैं सभी 9 देशों के खिलाफ शतक जमाने वाले बल्लेबाजों के बारे में और जानते हैं कि किस बल्लेबाज ने सबसे तेजी से ये उपलब्धि हासिल की है।

13. जॉक कैलिस(150 मैच, 254 पारी, 16 साल 20 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: hdwallpaperbackgrounds.net

साउथ अफ्रीका के ऑलराउंडर जॉक कैलिस ने अपने 150वें टेस्ट की 254वीं पारी में शतक जमाने के साथ ही सभी टेस्ट खेलने वाले देशों के खिलाफ शतक जमाने का अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम किया। हालांकि उनको ये मुकाम हासिल करने में काफी लंबा इंतजार करना पड़ा। जॉक कालिस को टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने के बाद 16 साल और 20 दिन का इंतजार इस रिकॉर्ड के साथ अपना नाम जोड़ने में लगा।

12. स्टीव वॉ (161 मैच, 250 पारी, 17 साल 205 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: cricket.com.au

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज कप्तान और मध्य क्रम के बल्लेबाज स्टीव वॉ ने सभी देशों के खिलाफ शतक जमाने में 17 साल 205 दिन का वक्त लगा। स्टीव वॉ ने अपने 161वें टेस्ट मैच की 250वीं पारी में ये मुकाम हासिल किया। स्टीव वॉ ने अपने टेस्ट करियर में कुल 32 शतक जमाए।

11. ब्रायन लारा (116 मैच, 203 पारी, 14 साल 171 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: REUTERS

वेस्टइंडीज के दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा को भी दूसरे बल्लेबाजों की तुलना में ये रिकॉर्ड बनाने में ज्यादा वक्त लगा। ब्रायन लारा ने ये मुकाम हासिल करने में 14 साल 171 दिन का वक्त लिया। उन्होंने अपने 116वें टेस्ट में शतक जमाकर टेस्ट में सभी देशों के खिलाफ शतक बनाने का गौरव हासिल किया।

10. सचिन तेंदुलकर (119 मैच, 192 पारी, 15 साल 27 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: 9cric.com

भारत के दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले सभी देशों के खिलाफ शतक बनाने का कारनामा अपने 119वें टेस्ट मैच की 192वीं पारी में अंजाम दिया। समय के लिहाज से उनको इस मुकाम को हासिल करने में 15 साल 27 दिन का वक्त लगा। सचिन तेंदुलकर पहले एशियाई बल्लेबाज थे जिन्होंने ये मुकाम हासिल किया।

9. रिकी पोंटिंग(104 मैच, 174 पारी, 10 साल 127 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: foxsports.com.au

सबसे सफल ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग ने टेस्ट क्रिकेट की अपनी 174वीं पारी में ये मुकाम हासिल कर लिया था। रिकी पोंटिंग को ये मुकाम हासिल करने में 10 साल 127 दिनों का वक्त लगा।

8. महेला जयवर्धने (101 मैच, 165 पारी, 11 साल 203 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: dhakatribune.com

कुमार संगाकारा के बाद एक और श्रीलंकाई दिग्गज महेला जयवर्धने ने भी सभी टेस्ट देशों के खिलाफ शतक जमाने का कारनामा अंजाम दिया। उन्होंने अपने 101टेस्ट की 165वीं पारी के दौरान ये मुकाम हासिल किया। महेला जयवर्धने को ये मुकाम हासिल करने में 11 साल 203 दिनों का वक्त लगा।

7. यूनिस खान(92 मैच, 163 पारी, 14 साल 239 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: Getty Images

पाकिस्तान के मध्य क्रम के बल्लेबाज यूनिस खान ने अपने 92वें टेस्ट की 163वीं पारी में ये मुकाम हासिल किया। उन्हें ये रिकॉर्ड बनाने में 14 साल 239 दिन का वक्त लगा।

1 |

6. गैरी कर्स्टन (84 मैच, 149 पारी, 8 साल 296 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: Getty Images

टेस्ट क्रिकेट इतिहास में गैरी कर्टस्ट पहले खिलाड़ी थे, जिन्होंने सभी 9 देशों के खिलाफ शतक जमाने का कारनामा अंजाम दिया। गैरी कर्स्टन ने 84वें टेस्ट की 149वीं पारी में ये मुकाम हासिल किया। अगर समय के लिहाज से देखें तो उनको ये मुकाम हासिल करने में कुल 8 साल 296 दिन का वक्त लगा। गैरी कर्स्टन ने 101 टेस्ट में सात हजार से रन बनाने के अलावा कुल 21 शतक भी लगाए।

5. राहुल द्रविड़ (86 मैच, 146 पारी, 8 साल 180 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: Getty Images

सचिन तेंदुलकर के कुछ दिन बाद ही ‘मिस्टर भरोसेमंद’ राहुल द्रविड़ ने भी ये कारनामा अंजाम दिया, लेकिन राहुल द्रविड़ ने ये कारनामा सिर्फ 146 पारियों में अंजाम दिया। समय के लिहाज से भी राहुल द्रविड़ ने पिछले तीनों बल्लेबाजों को पीछे छोड़ते हुए मात्र 8 साल 180 दिनों का वक्त लिया। राहुल द्रविड़ ने ना सिर्फ सभी देशों के खिलाफ शतक जमाया बल्कि वो ऐसे पहले खिलाड़ी भी बने जिसने सभी देशों में जाकर शतक बनाया।

4. मर्वन अट्टापट्टू (80 मैच, 138 पारी, 14 साल 134 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: Getty Images

श्रीलंका के इस दिग्गज बल्लेबाज को सभी देशों के खिलाफ शतक जमाने का अनोखा रिकॉर्ड बनाने में 14 साल 134 दिन का वक्त लगा। मर्वन अट्टापट्टू ने अपने 80वें टेस्ट की 138वीं पारी में ये मुकाम हासिल किया।

3. एडम गिलक्रिस्ट (84 मैच, 122 पारी, 6 साल 158 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: cricket.com.au

ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट भी सभी टेस्ट खेलने वाले देशों के खिलाफ शतक बना चुके हैं। वो दुनिया के पहले ऐसे विकेटकीपर बल्लेबाज थे जिन्होंने ये कारनामा अंजाम दिया। समय और मैचों के लिहाज से एडम गिलक्रिस्ट ने उस दौर में सबसे कम पारियों में और सबसे कम समय में ये रिकॉर्ड बनाया। एडम गिलक्रिस्ट ने सिर्फ 6 साल 158 दिनों में अपने 84वें टेस्ट की 122वीं पारी में ये अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया था।

2. कुमार संगाकारा( 69 मैच, 114 पारी, 7 साल 137 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: skysports.com

श्रीलंकाई विकेटकीपर बल्लेबाज कुमार संगाकारा ने सबसे तेजी से सभी देशों के खिलाफ शतक बनाने के एडम गिलक्रिस्ट के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ते हुए अपने 69 टेस्ट मैच की 114वीं पारी में ये मुकाम हासिल कर लिया। हालांकि समय के लिहाज से वो एडम गिलक्रिस्ट को पीछे नहीं छोड़ सके। उनको सभी देशों के खिलाफ शतक का रिकॉर्ड बनाने में 7 साल 137 दिन का वक्त लगा जबकि एडम गिलक्रिस्ट ने ये कारनामा 6 साल में ही कर दिखाया था।

1. केन विलियमसन (50 मैच, 91 पारी, 5 साल 276 दिन):

Batsman who scored Test tons against all nations
फोटो साभार: Getty Images

जिंबाब्वे के खिलाफ अपनी 91वीं पारी में शतक जमाने के साथ ही केन विलियमसन सभी देशों के खिलाफ शतक जमाने वाले 13वें बल्लेबाज बन गए। केन विलियमसन ने इस रिकॉर्ड से जुड़े पिछले सभी नामों को पीछे छोड़ते हुए मात्र 50 टेस्ट में ये कारनामा कर दिखाया। उन्होंने पारी के लिहाज से भी सबसे कम 91 पारियों में ये मुकाम हासिल किया। समय के लिहाज से उन्होंने सिर्फ 5 साल 276 दिनों में इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया।

| 2