रोहित शर्मा © AFP
रोहित शर्मा © AFP

आईपीएल-10 में जितनी चर्चा बल्लेबाज के शतक और गेंदबाजों के हैट्रिक लेने की नहीं हो रही, उससे ज्यादा चर्चा तो अंपायरिंग की हो रही है। पुणे के खिलाफ आखिरी ओवर में ये चर्चा एक बार फिर से गर्म हो गई जब अंपायर एस रवि ने जयदेव उनादकट की एक गेंद वाइड नहीं दी और जिसके बाद रोहित शर्मा उनसे उलझ पड़े। ये कोई पहला मौका नहीं था जब अंपायरों के फैसले पर आपत्ति दर्ज कराई गई या फिर अंपायरों के फैसले पर सवाल खड़े हुए हों। इस आईपीएल में ऐसे कई मौके आए जब अंपायरों के फैसले पर सवाल खड़े हुए। दूसरे लहजे में कहें तो इस सीजन में अब तक सबसे खराब अंपायरिंग देखने को मिली है। आइए आपको बताते हैं आईपीएल-10 के 10 ऐसे मौके जब अंपायरों के फैसलों पर सवाल खड़े हुए। ये भी पढ़ें: पुणे के विजयरथ को रोकने उतरेगी कोलकाता नाइट राइडर्स

1. कोलकाता बनाम गुजरात:  कोलकाता और गुजरात के बीच खेले गए इस मुकाबले में बासिल थंपी ने रॉबिन उथप्पा को LBW आउट कर दिया था। लेकिन अंपायर नितिन मेनन ने अपील ठुकरा दी और रॉबिन उथप्पा को नॉट आउट करार दे दिया। रीप्ले में साफ देखा जा सकता था कि उथप्पा आउट थे, हालांकि गुजरात को इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ा, क्योंकि इसके बाद उथप्पा सिर्फ 1 रन बनाकर ही पवेलियन लौट गए।

2. सनराइजर्स हैदराबाद बनाम किंग्स इलेवन पंजाब: पंजाब के बल्लेबाज मनन वोहरा ने इस मैच में 50 गेंदों में शानदार 95 रनों की पारी खेली थी। लेकिन जब वो (32) रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे, तो उस समय अंपायर ने उन्हें जीवनदान दिया था। दरअसल, मोहम्मद नबी की गेंद पर वोहरा LBW हो गए थे, लेकिन अंपायरिंग कर रहे अनिल दांडेकर ने गेंदबाज की अपील ये कहकर ठुकरा दी कि गेंद ने बल्ले का किनारा लिया है। हालांकि रीप्ले में साफ देखा गया था कि गेंद बल्ले पर कहीं भी नहीं लगी थी।

3. कोलकाता नाइट राइडर्स बनाम सनराइजर्स हैदराबाद: ये पहला मौका था जब रॉबिन उथप्पा को जीवनदान मिला था। उथप्पा अपनी पारी की पहली ही गेंद पर आउट हो सकते थे। दरअसल, भुवनेश्वर कुमार की गेंद उथप्पा के बल्ले का किनारा लेते हुए कीपर के हाथों में चली गई थी, लेकिन अंपायर दांडेकर ने अपील को ठुकरा दिया। बाद में उथप्पा ने 39 गेंदों में 68 रनों की पारी खेली थी।

4. रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर बनाम किंग्स इलेवन पंजाब: ये अब तक के गलत फैसलों में सबसे करीबी गलत फैसला था। बैंगलोर की टीम के 22 रनों पर 2 विकेट गिर चुके थे और डीविलियर्स के साथ केदार जाधव पारी को संभालने का काम कर रहे थे। लेकिन तभी वरुण एरॉन की गेंद जाधव के पैड पर लगी और अंपायर शमसुद्दीन ने उन्हें आउट दे दिया। जाधव छोटे कद के हैं और रीप्ले में देखा गया कि गेंद स्टंप को मिस कर रही थी।

5. सनराइजर्स हैदराबाद और मुंबई इंडियंस: इस मैच में तो गलती की हद ही गई थी। दरअसल, डेविड वॉर्नर ने जसप्रीत बुमराह की आखिरी गेंद पर चौका मार दिया था और जब मिचेल मैकलेनिघन अगला ओवर फेंकने आए तो स्ट्राइक में फिर से वॉर्नर थे। अंपायर थे नितिन मेनन और सीके नंदन। ये भी पढ़ें: चैंपियंस ट्रॉफी के लिए इंग्लैंड की टीम घोषित, इस गेंदबाज की हुई वापसी

6. दिल्ली डियरडेविल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर:  इस मैच में युजवेंद्र चहल गेंदबाजी कर रहे थे और बल्लेबाज थे ब्रेथवेट। बैंगलोर को विकेट की तलाश थी। इसी बीच चहल की गुगली को ब्रेथवेट समझ नहीं पाए और गेंद उनके पैड पर जा लगी। चहल ने अपील की और अंपायर वीरेंद्र शर्मा ने उसे ठुकरा दिया, लेकिन रीप्ले में साफ था कि ब्रेथवेट आउट थे। हालांकि बैंगलोर ने इसकी अगली ही गेंद पर ब्रेथवेट का विकेट झटक लिया।

7. मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइट राइडर्स: इस मैच में मुंबई के लिए ये दूसरा गलत फैसला था। सुनील नरेन गेंदबाजी कर रहे थे और रोहित शर्मा क्रीज पर थे। इसी बीच नरेन की गेंद रोहित के पैड पर लगी और अंपायर नंदन ने उन्हें LBW आउट दे दिया, लेकिन रोहित इस फैसले से संतुष्ट नहीं थे, क्योंकि गेंद उनके बल्ले पर पहले लगी थी और फिर उनके पैड पर लगी थी। रीप्ले में भी ये साफ जाहिर था कि पैड पर लगने से पहले गेंद ने बल्ले का किनारा लिया था।

8. मुंबई इंडियंस बनाम कोलकाता नाइट राइडर्स: जिस मैच में रोहित को गलत आउट दिया गया था, उसी मैच में जोस बटलर को भी गलत आउट दिया गया। अंकित राजपूत गेंदबाजी कर रहे थे और उनकी लो फुलटॉस गेंद बटलर के पैड पर लगी। खिलाड़ियों की अपील के बाद अंपायर नितिन मेनन ने अपनी उंगली उठा दी। रीप्ले में देखा गया कि गेंद लेग स्टंप से बाहर जा रही थी।

9. मुंबई इंडियंस बनाम पुणे सुपरजायंट: इस मैच में भाग्य ने मुंबई का साथ दिया और कायरन पोलार्ड को अंपायर एस रवि ने जीवनदान दे दिया था। इमरान ताहिर की गेंद पोलार्ड के पैड में लगी, अंपायर को ये फैसला लेना था कि गेंद बल्ले पर पहले लगी है या फिर पैड पर, लेकिन अंपायर ने पोलार्ड को नॉट आउट दे दिया। बाद में जब रीप्ले देखा गया तो उसमें साफ देखा जा सकता था कि गेंद पहले पैड पर लगी थी।

10. मुंबई इंडियंस बनाम राइजिंग पुणे सुपरजायंट: बटलर धमाकेदार बल्लेबाजी कर रहे थे और 18 गेंदों में 38 रन बनाकर खेल रहे थे, लेकिन इसी बीच गेंदबाजी करने आए इमरान ताहिर की एक गेंद बटलर के पैड पर लगी, गेंद ने पैड पर लगने से पहले उनके बल्ले का किनारा लिया था। इसके बावजूद खिलाड़ियों की अपील पर अंपायर एस रवि ने बटलर को आउट दे दिया।