IPL 2019, DC vs MI: Things to watch out for in Delhi vs Mumbai clash

इंडियन प्रीमियर लीग की कड़ी प्रतिद्वंदी टीमों में से एक है दिल्ली कैपिटल्स और मुंबई इंडियंस की जोड़ी। ये दोनों टीमें पहले सीजन से ही एक दूसरे की बड़ी दुश्मन रही हैं। ये जानकर थोड़ी हैरानी होगी की 11 सीजन से चले आ रहे मुंबई-दिल्ली के इस मुकाबले में दिल्ली का पलड़ा भारी है। दोनों टीमों के बीच अब तक कुल 23 मैच खेले जा चुके हैं, जिनमें 11 मैच मुंबई ने जीते हैं और दिल्ली के नाम 12 जीत रही। 12वें सीजन के अपने पहले मैच में दिल्ली ने मुंबई को हराकर टूर्नामेंट की शुरुआत की थी और आज के मैच में मुंबई के पास उस हार का बदला लेने का मौका है।

आज का मैच दिल्ली के फिरोज शाह कोटला मैदान में खेला जाना है। घरेलू मैदान पर खेलना किसी भी टीम के लिए फायदेमंद होता है लेकिन दिल्ली के साथ ऐसा नहीं है। कोटला की धीमी पिच की वजह से दिल्ली टीम यहां खेले तीन में से दो मैच हारी है, जो कि घरेलू मैदान के नजरिए से अच्छा आंकड़ा नहीं है। ऐसे में आज का मुकाबला बराबरी का होगा।

विश्व कप स्क्वाड को भुलाकर अच्छा प्रदर्शन करना चाहेंगे रिषभ पंत:

12वें सीजन में जब दिल्ली टीम वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई के खिलाफ उतरी थी तो रिषभ पंत ने 78 रनों की धमाकेदार पारी खेली थी। जो कि इस टूर्नामेंट में उनकी अब तक की सबसे बड़ी पारी है। उस मैच के बाद से पंत के बल्ले से खास रन नहीं निकले हैं और वो फिनिशर की भूमिका निभाने में भी नाकाम रहे हैं। अब जबकि भारतीय विश्व स्क्वाड में पंत का चयन नहीं होने की वजह से फैंस और क्रिकेट समीक्षको के बीच लंबी बहस छिड़ी हुई है तो आज के मैच में सभी की नजरें उन पर होगी। पंत चाहेंगे कि वो इस खबर को पीछे छोड़ दिल्ली के लिए मुंबई के खिलाफ एक और बड़ी पारी खेलें।

रोहित शर्मा-शिखर धवन:

मुंबई टीम के कप्तान और सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा को विश्व कप स्क्वाड का उप कप्तान बनाया गया है। इस बात में दोराय नहीं है कि रोहित अच्छे लीडर हैं लेकिन इस सीजन बतौर बल्लेबाज उनका प्रदर्शन खास नहीं रहा है। रोहित ने 7 मैचों में 193 रन बनाए हैं, जिसमें एक भी अर्धशतक शामिल नहीं है। हालांकि भारतीय कप्तान विराट कोहली ये कह चुके हैं कि आईपीएल प्रदर्शन को विश्व कप पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा लेकिन रोहित इस बड़े टूर्नामेंट में जाने से पहले कुछ बड़ी पारियां जरूर खेलना चाहेंगे।

ये भी पढ़ें: धोनी की गैरमौजूदगी में बिखरा चेन्नई का बल्लेबाजी क्रम, राशिद खान ने दिखाया कमाल

भारतीय विश्व कप स्क्वाड में रोहित के जोड़ीदार शिखर धवन का प्रदर्शन कुछ बेहतर रहा है। धवन ने 8 मैचों में 256 रन बनाए हैं। 12वें सीजन में धवन अब तक दो अर्धशतक जड़ चुके हैं, जिसमें 97 रनों की नाबाद पारी भी शामिल है। मुंबई के खिलाफ पहले मैच में भी धवन ने 43 रनों की अहम पारी खेली थी, आज के मैच में घरेलू मैदान पर उनसे एक और बड़ी पारी की उम्मीद होगी।

क्विंटन डी कॉक-कगीसो रबाडा:

दिल्ली-मुंबई के मैच में आज जो सबसे बेहतरीन मुकाबला देखने को मिलेगा, वो होगा दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक और उन्हीं की राष्ट्रीय टीम के तेज गेंदबाज कगीसो रबाडा। मुंबई के सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभाते हुए डी कॉक अच्छी लय में हैं। 8 मैचों में डी कॉक ने 278 रन बनाए हैं। आज भी डी कॉक की कोशिश मुंबई को अच्छी शुरुआत दिलाने की होगी लेकिन उनकी इस योजना पर रबाडा पानी फेर सकते हैं।

ये भी पढ़ें:हैदराबाद से हारकर भी चेन्नई टॉप पर बरकरार, रबाडा-वार्नर शीर्ष पर कायम

8 मैचों में 17 विकेट लेकर रबाडा इस सीजन दिल्ली के सबसे सफल गेंदबाज बन चुके हैं। वो राष्ट्रीय टीम के अपने साथी खिलाड़ी के खेल को अच्छी तरह समझते हैं। रबाडा जब दिल्ली के लिए अटैक की शुरुआत करेंगे तो उनका सामना डी कॉक से होगा और दर्शकों को एक रोमांचक मुकाबला देखने को मिलेगा।

कोटला की पिच:

फिरोज शाह कोटला की पिच इस सीजन दिल्ली टीम के लिए मददगार साबित नहीं हुई है। पहले तीन मैचों में धीमी रही इस पिच पर बल्लेबाजी करना मुश्किल है। यानि कि इस विकेट पर 135-140 तक का स्कोर पर्याप्त है। हैदराबाद और दिल्ली के बीच इस मैदान पर खेले आखिरी मैच में दोनों टीमों 129, 131 का स्कोर बनाया था। वहीं मैच से एक दिन पहले हुई बारिश का असर आज दिखाई पड़ सकता है।