IPL 2019, KKR vs RCB: Things to look out for in Kolkata vs Bangalore clash at  Eden Gardens

इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सीजन में सात मैच हारकर अंकतालिका में आठवें नंबर पर मौजूद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का मुकाबला कोलकाता नाइट राइडर्स से ईडन गार्डन्स में होगा। बैंगलुरू टीम जहां खिताब जीतने की उम्मीद खो चुकी है, वहीं लगातार तीन मैच हारकर कोलकाता भी मुश्किल में है। आज के मैच में दिनेश कार्तिक की टीम को विराट कोहली की बैंगलुरू टीम को हराकर मुकाबले में वापसी करनी होगी।

आंद्रे रसेल या कार्लोस ब्रेथवेट:

ईडन गार्डन्स में होने वाले इस मैच में सबसे बड़ा सवाल है कि क्या कोलकाता टीम आज आंद्रे रसेल को प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बनाएगी या नहीं। चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 9 अप्रैल को खेले गए मैच से ही रसेल कलाई की चोट से जूझ रहे है, बावजूद इसके वो पिछले तीनों मैच खेले थे। अगर कोलकाता टीम उनकी फिटनेस को इसी तरह खतरे में डालती रही तो आगे के मैचों में उनकी मुश्किल और बढ़ेगी क्योंकि रसेल पर केकेआर की निर्भरता से सभी विपक्षी टीमें वाकिफ हैं। ऐसे में अगर टीम मैनेजमेंट रसेल को आराम देने का फैसला लेता है तो उनके पास कार्लोस ब्रैथवेट के तौर पर एक और विस्फोटक कैरेबियन बल्लेबाज रहेगा।

क्या बदलेगा शुभमन गिल का बल्लेबाजी क्रम:

अंडर-19 विश्व के स्टार बल्लेबाज शुभमन गिल को इस सीजन अब तक कुछ खास करने का मौका नहीं मिला है। जूनियर टीम में शीर्ष क्रम में बल्लेबाजी करने वाले गिल को कप्तान कार्तिक निचले क्रम में भेज रहे हैं। गिल को दिल्ली के खिलाफ एक मैच में सलामी बल्लेबाजी करने का मौका मिला था, जहां उन्होंने अर्धशतक जड़ा था। उसके अलावा बाकी सात मैचों में गिल ने केवल 55 रन बनाए हैं।

ये भी पढ़ें: VIDEO: ईडन गार्डंस में विराट कोहली के सामले कोलकाता की चुनौती

सवाल ये है कि क्या कप्तान कार्तिक को अब तक समझ नहीं आया है कि गिल की सही जगह शीर्ष बल्लेबाजी क्रम में है। सुनील नरेन को सलामी बल्लेबाजी करने भेजने का दांव इस सीजन कार्तिक की टीम के काम नहीं आ रहा है। नरेन ने पिछले चार मैचों में दहाई का आंकड़ा भी नहीं छुआ है। अब वक्त आ गया है कि नरेन को गेंदबाजी ही करने दी जाय और गिल को क्रिस लिन के साथ स्थाई सलामी बल्लेबाज बनाया जाय।

बैंगलुरू टीम में डेल स्टेन की वापसी:

विराट कोहली की बैंगलुरू टीम इस सीजन सबसे ज्यादा कमजोर तेज गेंदबाजी विभाग में नजर आई है। युजवेंद्र चहल ने अकेले दम पर स्पिन अटैक का जिम्मा संभाला लेकिन पेस अटैक में ऐसा कोई गेंदबाज नहीं दिखा। नवदीप सैनी ने कुछ मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन मोहम्मद सिराज और उमेश यादव फ्लॉप रहे।

ये भी पढ़ें: Dream11 Prediction: आंद्रे रसेल की जगह लेंगे क्रालोस ब्रैथवेट, डेल स्टेन को मिलेगा मौका

हालांकि कोई विकल्प ना होने के चलते कप्तान कोहली कोई बदलाव नहीं कर सके लेकिन आज के मैच में उनके पास डेल स्टेन जैसा दिग्गज तेज गेंदबाज हैं। स्टेन को ऑस्ट्रेलिया के नाथन कूल्टर-नाइल की जगह बैंगलुरू स्क्वाड में शामिल किया गया है और आज उनके कोलकाता के खिलाफ उनके खेलने की उम्मीद है। बता दें कि 2010 सीजन में स्टेन बैंगलुरू स्क्वाड का हिस्सा थे।