इन तीनों विकेटकीपर बल्लेबाजों ने गेंदबाजी में भी अनोखा रिकॉर्ड बनाया है
इन तीनों विकेटकीपर बल्लेबाजों ने गेंदबाजी में भी अनोखा रिकॉर्ड बनाया है

क्रिकेट में बहुत से अनोखी चीजे होती रहती हैं, उनमें से ही एक अनोखा उदाहरण हैं विकेटकीपर का पैड उतार कर गेंदबाजी करना। क्रिकेट में ऐसा वाकया बहुत कम ही देखने को मिलता है जब कोई विकेटकीपर गेंदबाजी करता है। मगर ऐसा बहुत से विकेटकीपर कर चुके हैं, लेकिन इन विकेटकीपरों में भी महेन्द्र सिंह धोनी, मार्क बाउचर और एडम गिलक्रिस्ट के नाम एक अनोखा रिकॉर्ड दर्ज है। इन तीनों विकेटकीपरों ने अपने पहले मैच में गेंदबाजी करते हुए एक अनोखा रिकॉर्ड बनाया। तो आइए इस अनोखे रिकॉर्ड के बारे में जानते हैं।

1. महेन्द्र सिंह धोनी का अनोखा गेंदबाजी रिकॉर्ड:

महेन्द्र सिंह धोनी ने 2009 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के मुकाबले में वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे मैच में पहली बार गेंदबाजी करने का फैसला किया। पारी का 16वां ओवर करने आए महेन्द्र सिंह धोनी की पहली दो गेंदों पर वेस्टइंडीज के बल्लेबाज ट्रेविस डॉवलिन ने दो लगातार चौके जड़ दिये, लेकिन चौथी गेंद पर महेन्द्र सिंह धोनी ने ट्रेविस डॉवलिन को बोल्ड कर दिया। इस तरह महेन्द्र सिंह धोनी ने वनडे मैच में पहली बार गेंदबाजी करते हुए पहले ओवर में ही विकेट चटकाने का कारनामा अंजाम दिया। [Also Read: भारतीय बल्लेबाजों द्वारा लगाए गए सबसे यादगार छक्के]

2. मार्क बाउचर का टेस्ट गेंदबाजी रिकॉर्ड:

Unique bowling record of MS Dhoni, Adam Gilchrist and Mark Boucher
फोटो साभार: blogspot.com

महेन्द्र सिंह धोनी से 4 साल पहले इसी से मिलता जुलता कारनामा साउथ अफ्रीका के विकेटकीपर बल्लेबाज मार्क बाउचर ने किया था। मार्क बाउचर ने टेस्ट में पहली बार गेंदाबाजी करते हुए अपने पहले स्पेल में ही विकेट लेने का कारनामा अंजाम दिया था। 29 अप्रैल को 2005 के खेले गए इस टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज की पहली पारी के दौरान मार्क बाउचर ने गेंदबाजी करने का फैसला किया। बाउचर को पहले ओवर में तो विकेट नहीं मिला लेकिन उन्होंने अपने दूसरे ओवर की दूसरी गेंद पर ड्वेन ब्रावो का विकेट चटकाकर ये अनूठा कारनामा अंजाम दिया। [Also Read: इन देशों के बल्लेबाजों ने लगाए हैं वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक]

3. एडम गिलक्रिस्ट ने पहली गेंद पर विकेट:

विकेटकीपर बल्लेबाज के तौर पर सबसे टॉप विकेटकीपरों में गिने जाने वाले एडम गिलक्रिस्ट ने इंटरनेशनल मैचों में कभी गेंदबाजी नहीं की, लेकिन आईपीएल में उन्होंने अपने दिल में दबी गेंदबाजी की ख्वाहिश को पूरा किया और क्या बेहतरीन अंदाज में पूरा किया। 18 मई 2013 में मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेले गए मुकाबले में एडम गिलक्रिस्ट ने विकेटकीपिंग ग्लव्स का साथ छोड़ कर गेंदबाजी करने का फैसला किया और पारी का 20वां ओवर डाला। इत्तेफाक देखिये एडम गिलक्रिस्ट ने अपनी पहली ही गेंद पर हरभजन सिंह को गुरकीरत सिंह मान के हाथों कैच आउट करा दिया। अब एक विकेटकीपर गेंदबाज के लिए इससे बड़ी बात और क्या हो सकती है कि वो अपनी पहली ही गेंद पर विकेट चटका ले।