Shreyas-Gopal © PTI

श्रेयस गोपाल के नाबाद अर्धशतक की मदद से सौराष्ट्र और कर्नाटक के बीच रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल रोमांचक हो गया है जिसमें कोई भी टीम बाजी मार सकती है।

पढ़ें: ‘युवाओं के खुद को खास समझने की वजह सिर्फ पैसा नहीं’

सौराष्ट्र को 236 रन पर आउट करने के बाद कर्नाटक ने तीसरे दिन के अंत में आठ विकेट पर 237 रन बना लिए। उसके पास अब कुल 276 रन की बढत हो गई है। गोपाल और अभिमन्यु मिथुन (35) ने नौवे विकेट की नाबाद साझेदारी में 61 रन बना लिए थे।

तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट और बाएं हाथ के स्पिनर धर्मेंद्रसिंह जडेजा ने तीन-तीन विकेट लिए। मैच में अभी पूरे दो दिन बाकी है और सौराष्ट्र के पास चेतेश्वर पुजारा जैसा खिलाड़ी है लिहाजा 300 के करीब का लक्ष्य मुश्किल नहीं होना चाहिए।

पढ़ें: टीम इंडिया में ऑलराउंडर की जगह के लिए प्रतिस्पर्धा अच्छी बात : केदार

क्वार्टर फाइनल में सौराष्ट्र ने उत्तर प्रदेश के खिलाफ 372 रन का लक्ष्य हासिल किया था जो टूर्नामेंट के इतिहास में लक्ष्य का पीछा करते हुए सबसे बड़ी जीत थी। सौराष्ट्र ने अपने दूसे दिन के स्कोर में नौ रन और जोड़कर धर्मेद्रसिंह जडेजा (तीन), जयदेव उनादकट (0) और अर्पित वासवडा (30) के विकेट गंवाए।

रोनित मोरे ने 60 रन देकर छह विकेट लिए।

कर्नाटक की दूसरी पारी की शुरूआत खराब रही। उनादकट ने तीसरे ही ओवर में रविकुमार समर्थ (पांच) को पवेलियन भेजा। प्रेरक मांकड़ ने कृष्णामूर्ति सिद्धार्थ (8) और करूण नायर को आउट किया।

एक छोर मयंक अग्रवाल ने संभाले रखा लेकिन दूसरे छोर पर मनीष पांडे (26) को धर्मेंद्रसिंह जडेजा ने चलता किया।

अग्रवाल ने 77 गेंद में छह चौकों की मदद से 46 रन बनाये। गोपाल ने 134 गेंद में दो छक्कों और चार चौकों की मदद से 60 रन की पारी खेली। मिथुन ने 87 गेंद में 35 रन बनाए।

(इनपुट-भाषा)