टीम इंडिया © IANS
टीम इंडिया © IANS

वर्ल्ड एंटी डोपिंग एजेंसी (वाडा) की 2016 की रिपोर्ट बताती है कि 153 बीसीसीआई द्वारा मान्यता प्राप्त खिलाड़ियों में से 1 खिलाड़ी को प्रतिबंधित मादक पदार्थों के सेवन का दोषी पाया गया है। क्रिकेटर, जिसके नाम के बारे में अभी खुलासा नहीं किया है, वह इस मामले में संलिप्त होने वाले दूसरे खिलाड़ी होंगे उनके पहले अंडर-19 खिलाड़ी प्रदीप सांगवान पॉजिटिव पाए गए थे। सांगवान 2013 में कोलकाता नाइट राइडर्स की ओर से खेले थे और उसी साल आईपीएल में वह पॉजिटिव पाए गए थे।

कौन हो सकता है ये क्रिकेटर? 2016 के एंटी-डोपिंग टेस्टिंग आंकड़ों के मुताबिक, 138 क्रिकेटर्स जो बीसीसीआई के अंतर्गत रजिस्टर्ड हैं उन्हें ‘आईसी’ में टेस्ट किया गया जिसमें एक क्रिकेटर पॉजिटिव पाया गया। इसलिए इसका सार ये निकलता है कि जो क्रिकेटर पॉजिटिव पाया गया है वह आईसीसी के घरेलू टूर्नामेंटों जैसे रणजी ट्रॉफी, दिलीप ट्रॉफी, आईपीएल या ईरानी ट्रॉफी के दौरान ही पॉजिटिव पाया गया होगा क्योंकि ये टेस्ट कंपटीशन के दौरान होते हैं।

यह हो सकता है कि जो क्रिकेटर दोषी पाया गया है वह इंटरनेशनल क्रिकेटर न हो लेकिन ये पक्का है कि यह टेस्ट आईसीसी ईवेंट के दौरान नहीं किया गया है क्योंकि अगर ऐसा होता है तो आईसीसी मीडिया रिलीज तो भेज ही देती है। इस दौरान 15 आउट ऑफ कंपटीशन (ओसीसी) टेस्ट कराए गए, और ये सभी नेगेटिव रहे थे।

बीसीसीआई ने जानकारी देने से किया इंकार: जब बीसीसीआई से क्रिकेटर की पहचान के बारे में पूछा गया तो एक शीर्ष अधिकारी ने कहा, “हमें वाडा से कोई रिपोर्ट नहीं मिली है, इसलिए हम क्रिकेटर का नाम नहीं बता सकते।” रिपोर्ट बताती है कि एक यूरीन सैंपल में विशेष प्रकार के पदार्थ के सेवन का सुबूत मिलता है, जिसका मतलब है कि जिस खिलाड़ी पर सवाल उठे हैं उसे पॉजिटिव टेस्ट किया गया है।

शोएब मलिक ने दिखाया दम, पाकिस्तान ने श्रीलंका को पहले टी20 में 7 विकेट से रौंदा
शोएब मलिक ने दिखाया दम, पाकिस्तान ने श्रीलंका को पहले टी20 में 7 विकेट से रौंदा

बीसीसीआई के द्वारा मान्यता प्राप्त क्रिकेटरों में से किसी का ब्लड सेंपल नहीं लिया गया है। साल 2016 में आईसीसी ने 561 टेस्ट करवाए थे, जिसमें 244 इन-कंपटीशन (आईसी) जिसमें 1 एडवर्स एनालिटिकल फाइंडिंग (एएएफ) और एक अटिपिकल फाइंडिंग्स निकली थी। उन्होंने 317 आउट ऑफ कंपटीशन टेस्ट भी करवाए थे। वैसे ही पाकिस्तान क्रिकेट के द्वारा करवाए गए 52 टेस्ट में कोई भी पॉजिटिव नहीं निकला है। वहां बांग्लादेश द्वारा कराए गए 24 टेस्ट नेगेटिव निकले हैं।