Arrest warrant against Cricketer Mohammad Shami in domestic violence
Mohammad Shami@ Getty-Images (file Photo)

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अगले कुछ दिनों में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी के वकील से बात करके उनके मामले की जानकारी लेगा क्योंकि कोलकाता की एक अदालत ने सोमवार को इस तेज गेंदबाज की पत्नी हसीन जहां द्वारा दायर घरेलू हिंसा के मामले में उनके खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया।

पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया ने चौथ टेस्ट के लिए 12 सदस्यीय टीम घोषित की, ख्वाजा बाहर

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर बताया, ‘हमें स्थिति की जानकारी है और सबसे पहले हम मंगलवार को शमी के वकील से बात करेंगे। हम इस मामले में पूरा अपडेट चाहते हैं। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने चौथे दिन के खेल की शुरुआत से पहले शमी से बात की। हमें किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने की जरूरत है।’

उन्होंने कहा, ‘इस समय हम इस पर निर्भर हैं कि शमी का वकील हमें क्या जानकारी देता है। कुछ दिनों में चयनकर्ताओं को बताना पड़ेगा कि शमी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए उपलब्ध रहेंगे या नहीं।’

पढ़ें: महेंद्र सिहं धोनी को पछाड़ विराट बने भारत के सबसे सफल टेस्‍ट कप्‍तान

शमी और उनकी पत्नी के बीच कानूनी लड़ाई चल रही है। शमी पर उनकी पत्नी ने घरेलू हिंसा, बेवफाई और मैच फिक्सिंग के आरोप लगाए थे जिसके कारण बीसीसीआई ने कुछ समय के लिए उनका केंद्रीय अनुबंध भी रोक दिया था।

बीसीसीआई की जांच में पाक-साफ पाए जाने के बाद उन्हें केंद्रीय अनुबंध दिया गया।

सोमवार को हालांकि अलीपुर अदालत ने शमी को 15 दिन के भीतर आत्मसमर्पण करने को कहा क्योंकि पुलिस के आरोप पत्र दाखिल करने के बाद बार-बार समन जारी होने के बावजूद वह अदालत में पेश नहीं हुए।