शॉन टेट ने 19 मार्च को भारतीय नागरिकता अपना ली थी © Getty Images
शॉन टेट ने 19 मार्च को भारतीय प्रवासी नागरिकता अपना ली थी © Getty Images

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया चौथे टेस्ट से दो दिन पहले यह खबर आई है कि ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज शॉन टेट ने भारत की नागरिकता ले ली है। ताज्जुब की बात है जहां एक तरफ भारतीय विदेशी नागरिकता पाने की होड़ में रहते हैं वहां इस खिलाड़ी ने ऐसा फैसला क्यों लिया होगा। दरअसल टेंट की पत्नी माशुम सिंघा भारतीय मूल की हैं और इसी वजह से भारत के प्रति उनका लगाव काफी अधिक है। टेट ने ट्विटर के जरिए ये खबर सभी के साथ बांटी। उन्होंने ट्विटर पर अपने पासपोर्ट की फोटो शेयर की जिसमे भारतीय प्रवासी नागरिक कार्ड साफ लिखा था।

गौरतलब है कि टेट अपनी पत्नी ने पहली बार भारत में ही मिले थे। साल 2010 में राजस्थान रॉयल्स का यह पूर्व खिलाड़ी मैच के बाद आयोजित पार्टी में माशुम से मिला था। दोनों ने तीन साल के बाद 2014 में शादी कर ली और अब टेंट ने भारतीय नागरिकता को भी अपनाने का फैसला किया है। टेट को दुनिया की दूसरी सबसे तेज गेंद डालने वाले गेंदबाज के रूप में जाना जाता है। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ प्रसिद्ध लार्ड्स के मैदान में 161.1 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंक अपने ही सीनियर खिलाड़ी ब्रैट ली का रिकॉर्ड तोड़ दिया था। [ये भी पढ़ें: इतिहास के पन्नों से: जब बांग्लादेश को एक रन से हराकर टीम इंडिया ने जीता था रोमांचक मैच]

हालांकि सबसे तेज गेंद का रिकॉर्ड आज भी रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर से नाम पर है। 2005 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखने वाले टेंट ने 2011 में वनडे से संन्यास ले लिया था लेकिन वह टी20 फॉर्मट अब भी खेलते हैं।