Babar Azam: The break might make me rusty, but I can’t forget the basics
बाबर आजम (IANS)

कई सीनियर क्रिकेटरों ने कोरोना वायरस महामारी की वजह से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पर लगे ब्रेक को सकारात्मक नजरिए से देखते हुए इसे खिलाड़ियों के लिए जरूरी आराम लेने का समय बताया है। हालांकि पाकिस्तानी बल्लेबाज बाबर आजम का कहना है कि इस ब्रेक की वजह से उनकी लय टूट जाएगी लेकिन वो अपने बेसिक्स नहीं भूलेंगे।

ईएसपीएनक्रिकइंफो से बातचीत में पाक बल्लेबाज ने कहा, “मेरे लिए क्रिकेट के बिना जीना मुश्किल है। मेरा एक सेट रूटीन है और मैं पूरा दिन अभ्यास, जिम, फील्डिंग, ट्रेनिंग और फिटनेस पर काम करता हूं और अब इतनी सारी अनिश्चितताएं हैं। सब कुछ बंद है, आप रूटीन मिस कर रहे हैं लेकिन आप कुछ नहीं कर सकते।”

उन्होंने आगे कहा, “बतौर बल्लेबाज जब तक आपके हाथ में बैट नहीं होता आपको खुशी नहीं मिलती। इसलिए मैं केवल सकारात्मक रहकर अपने भाईयों के साथ गैराज में टेनिस गेंद के साथ अभ्यास कर रहा हूं। जिम से मुझे फिट रहने में मदद मिल रही है, ये मैं घर से भी कर सकता हूं लेकिन अगर ये ब्रेक लंबा चलता को आप लय खो सकते हैं लेकिन मैं अपने बेसिक्स नहीं भूलूंगा। आपको खुद पर भरोसा रखना होगा।”

विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव ने बदला हेयरस्टाइल; फैंस ने बोला रजनीकांत

अपनी बल्लेबाजी में आए बदलाव और सुधार पर आजम ने कहा, “जब मैं खेल नहीं रहा होता हूं तो मैं ज्यादातर समय अपनी मानसिकता पर काम करने में बिताता हूं। अगर मैं अच्छा प्रदर्शन करता तो मैं आसानी से संतुष्ट हो जाता था। मेरी विचार प्रक्रिया नकारात्मक है और मुझे लगता है कि मुझे इस पर काम करना है।”

उन्होंने कहा, “खेलने और प्रशिक्षण के अलावा, भी कई बाहरी तत्व हैं जिन्हें संबोधित करने की जरूरत है। खेल पर बेहतर पकड़ बनाने के लिए उन पर भी नियंत्रित करने की जरूरत है। मैं जितना ज्यादा नियंत्रण में रहूंगा, मैं अपनी पारी बेहतर कर सकता हूं। अब, एक अच्छा प्रदर्शन मुझे खुश नहीं करता है, इसके बजाय मैं अपने आप को आगे बढ़ाने और अपने खेल का विस्तार करने की कोशिश करता हूं।”

VIDEO: लॉकडाउन में क्रिकेट छोड़ बॉक्सेटबॉल का लुत्फ उठा रहे हैं केएल राहुल

आजम ने कहा, “मैंने ये सोचना बंद कर दिया है कि अगर मैं अच्छा प्रदर्शन करता हूं तो मेरा काम खत्म हो गया चाहे टीम हार भी जाय। मैं किसी और को कुछ साबित नहीं करना चाहता हूं कि मैं क्या कर रहा हूं, कैसे खेल रहा हूं और मेरी भूमिका कितनी बड़ी है। प्रदर्शन करना और फिर खुश होना आसान है, लेकिन मैंने खुद से कहा है कि मैं टीम के लिए जो भी करता हूं वो ज्यादा अहम है।”

उन्होंने आगे कहा, “अगर मैंने रन बना लिए हैं तो मेरा काम खत्म नहीं हुआ। अगर आप मैचविनिंग प्रदर्शन करते हैं, तो आपको अंदर से खुशी होती है। इसमें समय लगता है लेकिन मैंने कई सकारात्मक लोगों से बात की, सवाल पूछने शुरू किए और जो जवाब मिले उन्होंने मेरी काफी मदद की है।”