Bangladesh vs West Indies: We lost match because of our fielding, says Mashrafe Mortaza
Mashrafe Mortaza (File Photo) @ AFP

ढाका के शेरे बंगाल नेशनल स्‍टेडियम में खेले गए सीरीज के दूसरे वनडे मुकाबले में वेस्‍टइंडीज ने चार विकेट से जीत दर्ज की। बांग्‍लादेश के कप्‍तान मशरफे मुर्तजा का मानना है कि मैच में हमने कई कैच छोड़े, जिसका खामियाजा टीम को उठाना पड़ा।

पढ़ें: – पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान इयान चैपल ने कप्तान कोहली को दी ये सलाह

256 रनों के लक्ष्‍य का पीछा कर रही वेस्‍टइंडीज ने शाई होप 146(144) की करियर बेस्‍ट पारी की मदद से मैच अपने नाम किया। बड़े बल्‍लेबाजों के सस्‍ते में निपटने के बाद होप ने टेलेंडर्स के साथ मिलकर रन बनाए और टीम को जीत तक पहुंचाया। इस हार के साथ ही तीन मैचों की वनडे सीरीज 1-1 से बराबरी पर पहुंच गई है।

बांग्‍लादेश के कप्‍तान मशरफे मुर्तजा ने हर के बाद कहा, “फील्डिंग प्रैक्टिस के दौरान हमारी तरफ से कोई कोताही नहीं बरती गई, लेकिन मैदान पर आपका आत्‍मविश्‍वास मायने रखता है। कभी-कभी आप एक कैच ड्रॉप कर देते हो और फिर उसके कारण बने दबाव में एक और आसान कैच भी ड्रॉप कर देते हो। पहले दो मैचों के दौरान ही हमने काफी कैच छोड़े हैं। हम अगले मैच में सकारात्‍मक चीजें लेकर जाना चाहते हैं।”

पढ़ें: – शाई होप ने खेली करियर बेस्‍ट पारी, बांग्‍लादेश को 4 विकेट से हराया

बड़ा स्‍कोर बना पाने में विफल रहने पर मुर्तजा ने बल्‍लेबाजों की भी आलोचना की। उन्‍होंने कहा, “तमीम इकबाल, मुशफिकुर रहीम, शाकिब अल हसन और महमूदुल्‍लाह एक साथ अपना 100वां मैच खेल रहे हैं। तीनों ने अच्‍छा खेल दिखाया, लेकिन कोई भी बड़ी पारी खेलते हुए शतक नहीं जड़ सका।”

मुर्तजा ने कहा, “मैच में 15-20 रन और बनने चाहिए थे। अगर तमीम और शाकिब आगे भी बल्‍लेबाजी करते रहते तो हम 300 रन के पास पहुंच जाते। इसी तरह महमूदुल्‍लाह छह सात ओवर और खेल जाता तो भी हम 270-280 तक पहुंच जाते। इससे हमारे गेंदबाजों को काफी मदद मिलती। मुशफिकुर के आउट होने के बाद भी हमें लगा कि 270-280 हमारे लिए सही लक्ष्‍य होगा। बल्‍लेबाज वो नहीं कर पाए जो हम करना चाहते थे।”