Conceding 500 runs in warm-up game doesn’t mean anything says Cheteshwar Pujara
Cheteshwar Pujara with kl rahul

भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज में उसकी गेंदबाजी की वजह से ज्यादा ताकतवर माना जा रहा है। टेस्ट सीरीज की शुरुआत से पहले क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इलेवन के साथ खेले गए चार दिन के प्रैक्टिस मैच में भारतीय गेंदबाजों ने 500 से ज्यादा रन लुटाए। टीम के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने गेंदबाजों का बचाव करते हुए इसे साधारण बात बताई है।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच गुरुवार से चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला एडिलेड में खेला जाना है। भारतीय टीम के मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने मीडिया से बात करते हुए उनके सवालों का जवाब दिया। पुजारा ने प्रैक्टिस मैच के दौरान भारतीय गेंदबाजों की पिटाई पर ज्यादा ध्यान ना देने को कहा।

पुजारा ने सवाल के जवाब में कहा, ”गेंदबाजों की पहले ही इस बारे में मीटिंग हो चुकी है। मुझे नहीं लगता वार्मअप मैच में 500 रन बन जाना इतनी अहम बात है। हमारे गेंदबाज जानते हैं उनको क्या करना है। मैं नहीं बताना चाहूंगा उनका गेम प्लान क्या है। उनको पता है ऑस्ट्रेलिया में किस लाइन और लेंथ पर गेंदबाजी करनी चाहिए।”

भारतीय गेंदबाज अनुभवी

”हमारे ज्यादातर गेंदबाजों ने 2015 में यहां टेस्ट सीरीज खेली है। एक गेंदबाजी यूनिट के तौर पर हम काफी कॉन्फिडेंट हैं। फिर भी मुझे लगता है उनको अपने बेसिक पर ध्यान देने की जरूरत है और उनके अच्छे से पता है किया करना है।”

स्लेजिंग पर ध्यान नहीं

”इस पर कुछ नहीं कहना चाहूंगा ऑस्ट्रेलिया क्या करेगी लेकिन जब भारतीय टीम की बात आती है तो हम एक आला दर्जे की क्रिकेट खेलना चाहेंगे जो हम करते आए हैं। स्लेजिंग के बारे में कह नहीं सकता कि जब हम पहला टेस्ट मैच खेलना शुरू करेंगे तो क्या होगा। एक बात जो तय है स्लिजिंग की चिंता ना करते हुए हम बेहतर प्रतिस्पर्धा वाली क्रिकेट खेलना चाहेंगे और अपने खेल का मजा उठाएंगे। जब मैच शुरू होगा और स्लेजिंक होगी तो हो हमरा ध्यान इसपर बिल्कुल भी है।”