पाकिस्‍तान के पूर्व सलामी बल्‍लेबाज सलमान बट ने वकार यूनुस के सामप्रदायिक बयान के बाद उसपर तीखी प्रतिक्रिया दी. सलमान बट ने कहा कि हमें ऐसी चीजों से दूर रहना होगा जो लोगों को आपसी में बांटती है. मैच के दौरान ऐसी बहुत सी गतिविधियां हुई हैं जो लोगों को एक दूसरे के करीब लाती हैं.

वकार यूनुस ने पाकिस्‍तान की 10 विकेट से जीत के बाद बयान दिया था कि मोहम्‍मद रिजवान का मैच से पहले मैदान में मौजूद हिन्‍दुओं के सामने नमाज पढ़ाना उनके लिए बेहद खास पल थे. मामला बढ़ने के बाद वकार यूनिस ने अपने इस बयान पर माफी भी मांगी.

सलमान बट ने अपने यू-ट्यूब चैनल पर कहा, “इससे फर्क नहीं पड़ता कि किस देश से आप आते हैं. आपकी जो भी मान्‍यता हो, सभी मान्‍यताओं, धर्म व संस्‍कृति का सम्‍मान होना चाहिए. ऐसा कुछ भी नहीं कहा जाना चाहिए जिससे किसी की भावनाएं आहत हों और उन्‍हें बुरा लगे. भले ही वो भारत या पाकिस्‍तान का खिलाड़ी हो, आज के वक्‍त का या पूर्व खिलाड़ी हो, हमें ओछी बात करने से बचना चाहिए.”

“ऐसे बहुत से खिलाड़ी हैं जो सुपरस्‍टार बने हैं. ये बहुत जरूरी है कि हम संतुलित माइंडसेट रखें. आप उम्‍मीद नहीं करते कि इस तरह की चीजें किसी भी पक्ष की तरफ से कही जाएं. दुखी की बात है कि ऐसा हुआ है.”

सलमान बट ने कहा, “हमें ऐसी बात करनी चाहिए जो लोगों को जोड़े. बांटने वाली चीजें से हमें दूर रहना चाहिए. मैच के दौरान बहुत सारी अच्‍छी चीजें भी हुई हैं. दोनों तरफ के लोगों ने अच्‍छे क्रिकेट की प्रशंसा की है. पाकिस्‍तान के क्रिकेटर्स ने विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी से बातचीत की. हमें अच्‍छी चीजों को हाइलाइट करना चाहिए और बुरी चीजों को पीछे छोड़ देना चाहिए.”