Dane Paterson latest South African to take the Kolpak route
डेन पैटरसन (Twitter)

कोलपैक डील साइन कर राष्ट्रीय टीम को छोड़ने वाले दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटरों की सूची में डेन पीटरसन का नाम शामिल होने वाला है। तेज गेंदबाज पीटरसन जल्द ही इंग्लिश काउंटी क्लब नॉटिंघमशायर से जुड़ सकते हैं।

पीटरसन की घरेलू टीम केप कोबराज के कोच एशवेल प्रिंस ने कहा, “हमें जानकारी मिली है कि वो ऐसा कर रहा है। लेकिन उसे इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड से अनुमति चाहिए होगी। हमें बताया गया है कि ये जल्द होगा।”

उन्होंने कहा, “एक 30 साल के गेंदबाज के तौर पर आपके पास उतने साल नहीं बचे हैं। मुझे यकीन है कि अगर वो बैठकर बात करते और देखते कि प्रोटियाज टीम के लिए खेलने के लिए उनके पास कौन से मौके हैं। अगर नहीं तो वो (खिलाड़ी) दूसरे विकल्पों पर विचार करेंगे ही।”

PM मोदी के #9Minutesat9PM कार्यक्रम के दौरान पटाखे फोड़ने वालों पर भड़के गौतम गंभीर

अगर ऐसा होता है तो पैटरसन कोलपैक डील साइन करने वाले 69वें खिलाड़ी बन सकते हैं। लेकिन पैटरसन इस डील में लंबे समय तक नहीं खेल पाएंगे क्योंकि ब्रिटेन ने 31 मार्च को ही ब्रेक्सिट के जरिए यूरोपियन संघ को छोड़ दिया है जिसके बाद क्रिकेट पर कोलपैक डील का प्रभाव खत्म हो गया है।

कोलपैक डील काउंटी टीमों को इंग्लैंड के क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के विदेशी खिलाड़ियों को साइन करने नियमों का पालन ना करने में सक्षम बनाता है। कोलपैक यूरोपियन संघ से जुड़े 78 अफ्रीकी, कैरेबियन और पैशेफिक देशों की सरकारों को ये अधिकार देता है।

कोबराज टीम के प्रवक्ता डेविड ब्रूक ने कहा, “उसने तत्काल प्रभाव से कोलपैड डील साइन कर ली है। उसे केवल ईसीबी से आखिरी अनुमति मिलने की इंतजार है। अगर कोलपैल डील खत्म हो जाती है तो वो काउंटी टीम के लिए विदेशी खिलाड़ी के तौर पर खेलेगा। हमें बोला गया है कि काउंटी टीम का नाम बताएं जब तक कि ईसीबी के साथ डेन का आखिरी इंटरव्यू नहीं हो जाता।”