इंग्‍लैंड दौरे पर ऑस्‍ट्रेलिया (England vs Australia) की टीम सितंबर की शुरुआत से मेजबानों के खिलाफ उतरेगी. खाली स्‍टेडियम में मैच होने के कारण इस बार फैन्‍स की तरफ से विरोधी टीम के खिलाफ छींटाकशी संभव नहीं है. ऑस्‍ट्रेलिया के कप्‍तान एरोन फिंच (Aaron Finch) इसी चीज को मिस करेंगे.

ऑस्ट्रेलिया की टीम के इस हफ्ते इंग्लैंड पहुंचने के बाद फिंच ने बुधवार को पहली बार बयान देते हुए कहा, ‘‘मनोरंजन करने के लिए दर्शकों की मौजूदा हमेशा अच्छी होती है और वे जो छींटाकशी करते हैं, विशेषकर इंग्लैंड के दर्शक, वह खास है.’’

फिंच ने वीडियो कॉल के दौरान कहा, ‘‘क्या वे हद पार कर देते हैं? कभी-कभी, शायद. लेकिन मुझे लगता है कि इसका हिस्सा होना अच्छा है विशेषकर जब आप इंग्लैंड को वहां करा दो तो. इस बार चीजें अलग होंगी लेकिन मुझे नहीं लगता कि इससे मैच के जुनून में कोई कमी आएगी.’’

बल्लेबाजों स्टीव स्मिथ (Steve Smith) और डेविड वार्नर (David Warner) को 2018 में दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण में शामिल होने के बाद पिछले साल एशेज श्रृंखला और क्रिकेट विश्व कप के दौरान इंग्लैंड के दर्शकों की हूटिंग का सामना करना पड़ा था.

ये दोनों इस बार भी आस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा हैं जो वैश्विक महामारी के शुरू होने के बाद देश से बाहर जाने वाली पहली राष्ट्रीय खेल टीम है.

आस्ट्रेलिया से पहले वेस्टइंडीज, आयरलैंड और पाकिस्तान की टीमें अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए इंग्लैंड का दौरा कर चुकी हैं और फिंच ने कहा कि वह स्वदेश में यह मुकाबले देख रहे थे.

उन्होंने कहा, ‘‘बेशक दर्शकों के नहीं होने से स्थिति थोड़ी अलग है लेकिन एक क्रिकेट के रूप में मुझे लगता है कि हम अपने 95 प्रतिशत मुकाबले बहुत अधिक दर्शकों के सामने नहीं खेलते. इसलिए मुझे लगता है कि हम इसके आदी हैं.’’

ऑस्ट्रेलिया ने 13 मार्च से कोई मुकाबला नहीं खेला है जब न्यूजीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला रद्द कर दी गई थी. इंग्लैंड में टीम को तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय और इतने ही टी20 अंतरराष्ट्रीय जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में खेलने हैं.

ऑस्ट्रेलिया की 21 सदस्यीय टीम शुक्रवार को अपनी ही दो टीमें बनाकर 50 ओवर का मैच खेलेगी और इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबले से पहले चार टी20 अभ्यास मैच भी खेलेगी.