केएल राहुल (KL Rahul) ने ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ (IND vs AUS) वनडे सीरीज से विकेटकीपिंग की जिम्‍मेदारी उठाई. रिषभ पंत (Rishabh Pant) के चोट से नहीं उबर पाने के कारण वो अब न्‍यूजीलैंड के खिलाफ पांच मैचों की टी20 सीरीज (India vs New Zealand) के दौरान भी यह जिम्‍मेदारी उठा रहे हैं. ऑकलैंड टी20 (Auckland T20I) जीतने के बाद केएल राहुल ने माना कि विकेटकीपिंग करने से उनकी बल्‍लेबाजी में भी सुधार हो रहा है.

पढ़ें:- रोहित शर्मा के हैरतअंगेज कैच को देख उड़े फैंस के होश

केएल राहुल (KL Rahul) ने कहा, “विकेटकीपिंग के साथ बल्लेबाजी करना चुनौतीपूर्ण है लेकिन मैं अतिरिक्त जिम्मेदारी का ‘लुत्फ उठा रहा हूं’ क्योंकि इससे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने में मुझे मदद मिल रही है. एक बल्लेबाज के तौर पर भी 20 ओवर तक कीपिंग करने के बाद आपको अंदाजा हो जाता है कि पिच पर कैसा शॉट खेलना है.”

केएल राहुल (KL Rahul) ने कहा, ‘‘ ईमानदारी से कहूं तो मुझ यह अच्छा लग रहा है. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यह नया लग सकता है लेकिन मैं पिछले 3-4 वर्षों से अपनी आईपीएल फ्रैंचाइजी के लिए यह काम कर रहा हूं. जब भी मौका मिलता है तो मैं अपनी प्रथम श्रेणी की टीम के लिए यह करता रहता हूं. मैं विकेटकीपिंग का अभ्यास करता रहता हूं.’’

पढ़ें:- ऑकलैंड में बना इतिहास, पहली बार 5 बल्‍लेबाजों ने एक टी20 मैच में जड़े अर्धशतक

केएल राहुल (KL Rahul) ने आगे कहा, ‘‘ मुझे विकेट के पीछे रहना पसंद है क्योकि इससे पिच का अंदाजा मिल जाता है. मैं इससे जुड़ी जानकारी गेंदबाजों और कप्तान को देता हूं और कप्तान उसी मुताबिक फील्डिंग लगाते हैं.’’

‘‘एक बल्लेबाज के तौर पर भी 20 ओवर तक कीपिंग करने के बाद आपको अंदाजा हो जाता है कि पिच पर कैसा शॉट खेलना है. मैं इस जिम्मेदारी का लुत्फ उठा रहा हूं.’’