ind w vs sa w omission of shikha pandey was a tough call but she is not dropped says harmanpreet kaur
शिखा पांडे @IAF_MCCTwitter

भारतीय महिला क्रिकेट टीम कोविड- 19 के बाद क्रिकेट में वापसी को तैयार है. रविवार से टीम इंडिया लखनऊ में साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीमित ओवरों की वनडे और टी20 सीरीज का आगाज करेगी. इस दौरे पर अफ्रीकी टीम 5 वनडे और तीन टी20 इंटरनेशनल मैच खेलने हैं. इस सीरीज से महिला भारतीय टीम करीब 12 महीने बाद इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी कर रही है. लेकिन इस शुरुआत से पहले तेज गेंदबाज शिखा पांडे के टीम में न होने का मुद्दा छाया हुआ है.

शिखा पांडे को दोनों ही सीरीज के लिए टीम में नहीं चुना गया है. इस पर टीम की उपकप्तान हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) ने शुक्रवार को सफाई देते हुए कहा कि इस अनुभवी तेज गेंदबाज को टीम में नहीं रखना ‘मुश्किल फैसला’ था लेकिन उन्हें बाहर नहीं किया गया है. हालांकि शिखा को बाहर रखने के सिलेक्टर्स के इस फैसले से हलचल मची हुई है.

भारत की टी20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत ने कहा, ‘मैं जानती हूं कि यह मुश्किल फैसला था, कभी कभार आपको अन्य खिलाड़ियों को भी मौका देने की जरूरत होती है.’

उन्होंने कहा, ‘उन्हें बाहर नहीं किया गया है, कभी कभार आपको मौके लेने पड़ते हैं और इस टूर्नामेंट के बाद हम अपना संयोजन निश्चित कर पाएंगे क्योंकि हमें आगामी दो-तीन वर्षों में काफी क्रिकेट खेलना है.’ 31 वर्षीय शिखा ने भारत के लिए 52 वनडे और 50 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने क्रमश: 73 और 36 विकेट चटकाए हैं.

आगामी सीरीज के बारे में बात करते हुए हरमनप्रीत ने कहा कि खेल से इतने समय तक दूर रहने के बावजूद कोई परेशानी नहीं है और वे साउथ अफ्रीका के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन कर अपना आत्मविश्वास हासिल करना चाहेंगी.

उन्होंने कहा, ‘मैं जानती हूं कि यह लंबा ब्रेक था, कभी कभार चीजें आपके नियंत्रण में नहीं होती. मुझे उम्मीद है कि हम टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करेंगे.’

हरमनप्रीत ने कहा, ‘हर टूर्नामेंट महत्वपूर्ण है और निश्चितरूप से साउथ अफ्रीका एक ऐसी टीम है, जिसने पिछले दो वर्षों में काफी अच्छा प्रदर्शन दिखाया है, हमारे लिए उनके खिलाफ खेलना और आत्मविश्वास हासिल करना फायदेमंद है क्योंकि हम काफी लंबे समय बाद खेल रहे हैं.’

रविवार को साउथ अफ्रीका के खिलाफ जब भारतीय टीम मैदान पर उतरेगी तो यह हरमनप्रीत का 100वां वनडे होगा और उन्होंने कहा कि यह उन्हें अच्छा करने के लिए प्रेरित ही करेगा.

उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं पता था (100वें वनडे के बारे में). मैं इसमें खेलने के लिए बहुत उत्साहित हूं क्योंकि पहली बात तो हम काफी लंबे समय बाद खेल रहे हैं और फिर यह मेरा 100वां वनडे है, दोनों चीजों को सोचकर मुझे अच्छा खेलने की ऊर्जा मिलेगी और मुझे अच्छा करने की उम्मीद है.’