India vs Australia, 3rd T20: Krunal Pandya becomes first spinner to takes 4 wickets in Twenty20 Internationals in Australia
Krunal-Pandya © Getty Images

भारतीय टीम के ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या ने ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ उसी के घर में टी-20 इंटरनेशनल मैच में एक ऐसी उपलब्धि हासिल कर ली है जिसे दुनिया का कोई भी स्पिनर ऑस्‍ट्रेलिया में ये कारनामा नहीं कर पाया था।

ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या के बड़े भाई क्रुणाल ऑस्‍ट्रेलिया में किसी टी-20 इंटरनेशनल मैच में 4 विकेट लेने वाले विश्‍व के पहले स्पिनर बन गए हैं। उन्‍होंने ये उपलब्धि भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच सिडनी में जारी सीरीज के तीसरे और अंतिम टी-20 मैच में हासिल की।

सिडनी में जारी टी-20 मैच में क्रुणाल ने अपने चार ओवर के कोटे में 36 रन देकर कुल 4 विकेट अपने नाम किए।

डार्सी शॉट, मैक्‍सवेल, मैक्‍डरमोट और कैरी को भेजा पवेलियन

27 साल के स्‍लो लेफ्ट आर्म ऑर्थोडॉक्‍स गेंदबाज क्रुणाल ने पहले विस्‍फोटक ओपनर डार्सी शॉर्ट को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट किया। इसके बाद उन्‍होंने बेन मैक्‍डरमोट को विकेट के आगे फंसाया। पांड्या ने अपना तीसरा शिकार ऑलराउंडर ग्‍लेन मैक्‍सवेल को रोहित शर्मा के हाथों कैच कराकर किया। एलेक्‍स कैरी को पांड्या की गेंद पर कप्‍तान विराट कोहली ने कैच किया।

मैक्‍सवेल और डोकरेल के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा

ऑस्‍ट्रेलिया में किसी टी-20 इंटरनेशनल मैच में इससे पहले ऑलराउंडर ग्‍लेन मैक्‍सवेल ने 2 ओवर में 10 रन देकर 3 विकेट लिए थे। इसके बाद आयरलैंड के बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज जॉर्ज डोकरेल ने 18 रन देकर तीन विकेट लिए थे।

इस लिस्‍ट में ऑस्‍ट्रेलिया के डेविड हसी चौथे नंबर पर हैं जिन्‍होंने 4 ओवर में 25 रन देकर तीन विकेट लिए हैं।

टेस्‍ट में कपिल देव तो वनडे में अगरकर हैं ऑस्‍ट्रेलिया में नंबर वन

ऑस्‍ट्रेलिया में टेस्‍ट में किसी भारतीय गेंदबाज का सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन 106 रन देकर 8 विकेट है। ये भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान कपिल देव के नाम है। वनडे में पूर्व तेज गेंदबाज अजीत अगरकर ने ऑस्‍ट्रेलिया में 42 रन देकर 6 विकेट लिए हैं जो 50 ओवर की क्रिकेट में किसी भारतीय गेंदबाज का बेस्‍ट प्रदर्शन है।

इसके बाद टी-20 में अब क्रुणाल का नाम जुड़ गया है।

ऑस्‍ट्रेलिया में टी-20 में खराब गेंदबाजी का भी रिकॉर्ड है क्रुणाल के नाम

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला जा रही तीन मैचों की टी20 सीरीज के पहले मुकाबले में क्रुणाल ने 55 रन लुटा दिए थे। क्रुणाल के चार ओवर की गेंदबाजी में 55 रन पड़े जो इस फॉर्मेट में भारत का दूसरा सबसे खराब गेंदबाजी प्रदर्शन है।