India vs Australia, 3rd Test: Pragyan Ojha believes Ravichandran Ashwin is captain of all bowlers
Ravichandran Ashwin Steve Smith @ Twitter/ ICC

ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर मेजबान टीम की नाक में दम करने वाले स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) को लेकर पूर्व स्पिनर प्रज्ञान ओझा (Pragyan Ojha) ने बड़ा बयान दिया है। ओझा का मानना है कि अश्विन का अनुभव और मानसिकता उन्हें भारतीय टीम में गेंदबाजों का कप्तान बनाती है।

मौजूदा भारतीय टीम में अश्विन सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। उनके नाम 375 टेस्ट विकेट हैं। उन्होंने मेलबर्न में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में भारत को जीत दिलाने में अहम योगदान निभाया था।

Yuzvendra Chahal-Dhanashree Verma Latest Pictures : युजवेंद्र चहल ने धनाश्री वर्मा संग शेयर की हनीमून की तस्वीरें, गजब की दिखी केमेस्ट्री

ओझा ने स्पोर्ट्स टुडे से कहा, अश्विन बहुत अच्छे से जानते हैं कि वह क्या करना चाहते हैं। वह कोई नए खिलाड़ी नहीं हैं। वह ऑस्टेलिया में खेल चुके हैं और अब उन्हें अपनी जगह पक्की करने की जरूरत नहीं है। यह एक खिलाड़ी के लिए सबसे अहम बात है।

उन्होंने कहा, एक बार जब आपके दिल से टीम से बाहर होने का डर चला जाता है तो यह आपको बॉडी लेंग्वेज से पता चल सकता है। आपको कुछ चीजों को लेकर थोड़ा सावधान जरूर रहना होता है।

अश्विन ने आस्ट्रेलिया के साथ खेली जा रही चार मैचों की टेस्ट सीरीज के शुरुआती दो मैचों में 10 विकेट लिए हैं। वह सीरीज में अभी तक सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। उनका सबसे बड़ा योगदान यह रहा है कि उन्होंने स्टीव स्मिथ को दो बार आउट किया है।

Year Ender 2020: वनडे में टॉप-4 पर रहे कंगारू, नंबर 5 Kohli नहीं बल्कि इस भारतीय को मिली जगह

ओझा ने कहा, जिस खिलाड़ी ने लगभग 375 विकेट लिए हों, मुझे लगता है कि वह एक शानदार रणनीतिकार हो सकता है। लेकिन एक ही अंतर मैं देखता हूं, वह मानसिक तौर पर वहां मौजूद रहते हैं। वह सोचते हैं कि उन्हें अपनी टीम के लिए अच्छा करना है और वह गेंदबाजी आक्रमण के लीडर हैं।

उन्होंने कहा, वह परिस्थतियों के बारे में चिंता नहीं करते हैं। आमतौर पर जब आप एक नए खिलाड़ी के तौर पर आस्ट्रेलिया जाते हैं तो आप नहीं जानते कि विकेट कैसी होगी, कुकाबुरा गेंद आपकी मदद करेगी या नहीं, अश्विन इन सभी चीजों से आगे निकल चुके हैं। वह जानते हैं कि चाहे स्थिति कैसी हो, उन्हें परिणाम देने हैं।