India vs Australia: Mohammad Kaif revealed the he gave Prithvi Shaw before going to Australia tour
पृथ्वी शॉ (IANS)

भारतीय क्रिकेट टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड टेस्ट में हार के बाद आलोचका का शिकार बने पृथ्वी शॉ की बल्लेबाज तकनीक को लेकर पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ का समर्थन किया है।

पूर्व क्रिकेटर ने कहा, “आपकी तकनीक निश्चित तौर पर अच्छी गेंद खेलने में आपकी मदद करती है। भारत में आपको मूवमेंट वाली गेंद खेलने को नहीं मिलती जो कि पृथ्वी शॉ को स्टार्क या कमिंस के खिलाफ खेलनी पड़ रही है। वो दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों में से हैं जो 145 kph की गति से गेंदबाजी करते हैं।’

शॉ के समर्थन में उन्होंने आगे कहा, “ये पहला मौका था जब शॉ ने पिंक बॉल से टेस्ट मैच खेला है और वो भी ऑस्ट्रेलियाई जमीन पर। इसलिए मुश्किलें आना तो तय है।”

इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान शॉ की टीम दिल्ली कैपिटल्स के सहायक कोच कैफ ने बताया कि ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाने से पहले उन्होंने शॉ को क्या सलाह दी।

उन्होंने कहा, “फिटनेस की बात करें तो, जब आईपीएल फाइनलह हुआ तो मैंने उसे अपने पास बुलाया। जब आप रन बना रहे होते हैं, आप नेट्स में कम समय बिता सकते हैं, ब्रेक ले सकते हैं और रिकवरी कर सकते हैं लेकिन जब आप खराब फॉर्म से गुजर रहे होते हैं, रन नहीं बन रहे होते हैं, तब चाहे आप सचिन हो या द्रविड़, हम सभी को नेट्स में अतिरिक्त समय बिताना होता है।”

India vs Australia: पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने कहा- भारतीय बल्लेबाजों के फुटवर्क में आत्मविश्वास की कमी है

कैफ ने आगे कहा, “आप नई गेंद के खिलाफ खेलते हैं, गेंदबाजों को नेट में अपने खिलाफ गेंदबाजी करने के लिए बुलाएं। मैंने पृथ्वी शॉ से कहा कि जब आप अपने फिटनेस पर ज्यादा ध्यान देते हैं, अतिरिक्त कैच लेते हैं, अतिरिक्त बल्लेबाजी करते हैं, दौड़ लगाते हैं, जिम में ट्रेनिंग करते हैं और अपने दिमाग को भी ट्रेन करते हैं।”

पूर्व क्रिकेटर ने कहा, ” विराट कोहली इसका सबसे बड़ा उदाहरण हैं। आप अपने दिमाग को फिटनेस के साथ ट्रेन करते हैं। जब आप मुश्किल दौर से गुजर रहे होते हैं, तकनीक के अलावा अगर आप मानसिक तौर पर मजबूत होते हैं तो इससे आपको उस मुश्किल समय से निकलने में मदद मिलती है।”