एमएस धोनी  © Getty
एमएस धोनी © Getty

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी को दुनिया का सबसे शांत दिमाग वाला खिलाड़ी माना जाता है। यहां तक कि जब वह अपनी टीम की अगुआई कर रहे थे तब भी वह दबाव को अपने सीदे- सादे हावभाव से झेल ले जाते थे। लेकिन बैंगलुरू में खेले गए तीसरे टी20I मैच में एक वक्त देखने को मिला जब धोनी ने अपना आपा खो दिया और गेंदबाज युजवेंद्र चहल पर बरस पड़े। ये घटना इंग्लैंड के पारी की दूसरे ओवर की है। इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज सैम बिलिंग्स को चहल आउट कर चुके थे। नए बल्लेबाज जो रूट ने उनकी एक गेंद को मिड ऑफ की ओर खेल दिया और एक रन लेने के लिए दौड़े। लेकिन जब उन्होंने गेंद पर एक फील्डर को झपट्टा मारते हुए देखा तो अपना मन बदल दिया और वापस अपनी क्रीज पर पैर खींच लिए।

लेकिन तब तक नॉन स्ट्राइकिंग छोर वाले बल्लेबाज जेसन रॉय आधी पिच तक दौड़कर आ चुके थे। इसी बीच मिड ऑफ के खिलाड़ी ने चहल को गेंद फेंक दी। चहल ने ध्यान नहीं दिया कि उनके छोर का खिलाड़ी छोर छोड़कर दूसरे छोर पर जा चुका है और उनके पास उसे आसानी से रन आउट करने का मौका है। उन्होंने गेंद को कीपर छोर पर फेंक दिया और जेसन रॉय को रन आउट करने का सुनहरा मौका गंवा दिया। ये भी पढ़ें: भारत बनाम इंग्लैंड तीसरे टी20I की 8 बातें जो मैच में छाई रहीं

चहल के कीपर छोर पर गेंद फेंकने से धोनी बुरी तरह से झल्ला गए और बुरी तरह से चहल पर चिल्ला पड़े। जब रैना ने देखा कि इससे चहल का उत्साह कम हो रहा है तो उन्होंने चहल को हंसाया और उनका उत्साहवर्धन किया। बाद में चहल ने मैच में कहर बरपा दिया और 25 रनों पर 6 विकेट लेते हुए इंग्लैंड की पूरी पारी को 127 रनों पर लुढ़का दिया। अंततः भारत ने 75 रनों के विशाल अंतर से मैच जीत लिया। उल्लेखनीय है कि पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने 202/5 का स्कोर बनाया था। भारत की ओर धोनी और रैना दोनों ने अर्धशतक जमाए थे।