live cricket score, live score, live score cricket, india vs england live, india vs england live score, ind vs england live cricket score, india vs england 2nd test match live, india vs england 2nd test live, cricket live score, cricket score, cricket, live cricket streaming, live cricket video, live cricket, cricket live visakhapatnam
कप्तान कोहली ने दोनों पारियों में सर्वाधिक रनों का योगदान दिया © IANS

भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली ने सोमवार को इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट में जीत हासिल करने के बाद कहा कि जीत का श्रेय भारतीय बल्लेबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन को जाता है। भारत ने डॉ. वाई. एस. राजशेखर रेड्डी एसीए-वीसीए क्रिकेट स्टेडियम में हुए दूसरे टेस्ट मैच के पांचवें दिन सोमवार को चौथी पारी में 405 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही इंग्लैंड की पारी भोजनकाल के थोड़ी ही देर बाद 158 रनों पर समेट दी और मैच 246 रनों से मैच जीत लिया। भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनते हुए पहली पारी में कोहली (167) और चेतेश्वर पुजारा (119) से शतकों की बदौलत 455 रन बनाए थे।

मैच के बाद कोहली ने कहा, “हम यह सुनिश्चित करना चाहते थे कि हम अधिक से अधिक समय तक बल्लेबाजी करें, कम से कम पांच सत्र तक। हमें प्रतिद्वंद्वी टीम पर दबाव बनाने के लिए 450 से बड़ा स्कोर खड़ा करने की जरूरत थी। भारतीय बल्लेबाजों ने दूसरी पारी में भी अच्छा प्रदर्शन किया और कठिन परिस्थितियों में अच्छा स्कोर हासिल किया।” कोहली ने दूसरी पारी में भी 81 रनों का अहम योगदान दिया जिसकी बदौलत भारत ने 204 रनों का स्कोर खड़ा किया। [Also Read: साल 2016 में एक भी मैच न हारने वाले विराट कोहली एकमात्र कप्तान]

कोहली ने कहा, “टेस्ट क्रिकेट में यदि आप बड़ा स्कोर करते हैं तो यह वास्तव में दबाव बनाने में मददगार होता है। इसे आप देख सकते हैं कि पिच से गेंदबाजों को खास मदद न मिल पाने के बावजूद यह बड़े स्कोर का ही दबाव था कि बल्लेबाज विकेट गंवाते रहे। उन्हें पता था कि जरा सी गलती भारी पड़ सकती है। दूसरी पारी में यह और कठिन हो जाता है।” [Also Read: 50वें टेस्ट में जोए रूट पर भारी पड़े विराट कोहली]

कोहली ने दूसरे टेस्ट से पदार्पण करने वाले ऑफ स्पिन गेंदबाज जयंत यादव की भी सराहना की। हरियाणा के रहने वाले जयंत ने दूसरी पारी में तीन विकेट चटकाए और मैच में कुल चार विकेट उनके नाम रहे। बल्ले से भी जयंत ने 35 और 27 रनों की उपयोगी पारियां खेलीं। [Also Read: भारत ने इंग्लैंड को 246 रनों से हराया]

कोहली ने कहा, “सबसे अच्छी बात तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन और जयंत की गेंदबाजी रही। हम टेस्ट में इसी तरह का पदार्पण चाहते हैं। पहली पारी में एक विकेट और दूसरी पारी में तीन। बल्ले से भी बेहतरीन प्रदर्शन। जयंत ने बेहतरीन रवैया दिखाया है। वह अंत तक क्रीज पर टिका भी रहा। आखिरी विकेट के लिए जयंत ने मोहम्मद समी के साथ 42 रनों की अच्छी साझेदारी भी की। इस तरह के योगदान अमूल्य साबित हुए।”

कोहली ने कहा, “मेरे खयाल से हमने शुरुआती दो टेस्ट मैचों से जीत की लय हासिल कर ली है। हम कठिन परिस्थितियों से निकल आए हैं। हालांकि हम इंग्लैंड का सम्मान करते हैं। वे मोहाली में होने वाले अगले टेस्ट में भी गुणवत्तापूर्ण क्रिकेट खेलने वाले हैं।”