चेतेश्वर पुजारा ने 3 टेस्ट मैचों में 373 रन बनाकर अपनी उपयोगिता को साबित किया © AFP
न्यूजीलैंड के खिलाफ चेतेश्वर पुजारा ने 3 टेस्ट मैचों में 373 रन बनाकर अपनी उपयोगिता को साबित किया © AFP

भारत ने न्यूजीलैंड को सीरीज के तीनों मैच में धूल चटाते हुए सीरीज को 3-0 से जीता। इंदौर में खेले गए तीसरे टेस्ट में भारतीय टीम ने किवी टीम को 321 रनों के बड़े अंतर से हराया। सीरीज में भारतीय खिलाड़ियों का दबदबा देखने को मिला और उन्होंने खेल के हर विभाग में किवी खिलाड़ियों को पीछे छोड़ा। अगर रन बनाने और विकेट लेने के मामले में टॉप पोजीशन पर भारतीय खिलाड़ियों ने कब्जा जमाया। चेतेश्वर पुजारा ने 3 मैचों की सीरीज में सबसे सफल बल्लेबाज रहे तो सबसे सफल गेंदबाज 3 टेस्ट में 27 विकेट चटकाने वाले रविचन्द्रन अश्विन रहे।

वेस्टइंडीज दौरे पर धीमी बल्लेबाजी के लिए आलोचना झेलने वाले पुजारा ने 3 टेस्ट की 6 पारियों में 74.60 के शानदार औसत से 373 रन बनाकर सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बने। पुजारा ने नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए 1 शतक और 3 अर्धशतक जमाए। 101 उनका सर्वाधिक स्कोर रहा जो उन्होंने इंदौर टेस्ट की दूसरी पारी में बनाए थे। सीरीज में दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे रहे। रहाणे ने 3 टेस्ट की 6 पारियों में कुल लगभग 70 की औसत से 347 रन बनाए। उन्होंने 1 शतक और 1 अर्धशतक जमाया। सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों में तीसरे नंबर पर भारतीय कप्तान विराट कोहली हैं। कोहली ने एक दोहरे शतक की बदौलत 3 टेस्ट में कुल 309 रन बनाए। न्यूजीलैंड के लिए सबसे ज्यादा रन ल्यूक रांकी ने बनाए, रांकी ने 3 टेस्ट में 1 अर्धशतकीय पारी खेलते हुए 200 रन बनाए।[Also Read: भारत ने न्यूजीलैंड को 321 रनों से हराकर सीरीज पर 3-0 से कब्जा जमाया]

किवी बल्लेबाजों के पास अश्विन की टर्न लेती गेंदों से निपटने का कोई उपाय नहीं था © AFP
किवी बल्लेबाजों के पास अश्विन की टर्न लेती गेंदों से निपटने का कोई उपाय नहीं था © AFP

गेंदबाजी में भी भारत के अश्विन टॉप पर रहे। अश्विन ने 3 टेस्ट में कुल 27 विकेट चटकाए। अश्विन ने सीरीज में 3 बार 5 विकेट चटकाने के अलावा 2 बार टेस्ट में 10 विकेट चटकाने का कारनामा अंजाम दिया। 59 रन पर 7 विकेट उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी विश्लेषण रहा।अश्विन ने बल्ले से भी 71 रनों का योगदान दिया। उनके इस शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज चुना गया। विकेट चटकाने के मामले में दूसरे स्थान पर अश्विन के साथी जडेजा रहे। जडेजा ने 3 मैचों में कुल 14 विकेट चटकाए। उन्होंने एक बार 5 विकेट चटकाने का कारनामा अंजाम दिया। 73 रन पर 5 विकेट उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी विश्लेषण रहा। सीरीज में तीसरे सबसे सफल गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट रहे उन्होंने 3 मैचों में कुल 10 विकेट चटकाए।